मेरठ- सर्राफा कारोबारी के बेटे की हत्या के बाद, जागृति विहार में बाजार बंद

Smart News Team, Last updated: 09/09/2020 03:21 PM IST
  • मेरठ के जागृति विहार में सर्राफा व्यापारी स्वामी सतीश जैन के बेटे अमन की हत्या के कारोबारियों ने विरोध जताने के लिए दुकान बंद कर दी. बुधवार को इसी संबंध आम सभा करी गई हत्या और लूट करने वालों को जल्द से जल्द और कड़ी सजा देने की मांग की गई.
जागृति विहार में सभा करते सर्राफा व्यापारी

मेरठ. बुधवार को मेरठ के जागृति विहार सेक्टर -2 व्यापारियों ने आम सभा की और बाजार की दुकानें बंद करा दी. यह सभा इसलिए की गई क्योंकि सर्राफा व्यापारी स्वामी सतीश जैन के बेटे अमन को बदमाशों ने लूट करते वक्त मंगलवार को गोली मारी दी थी. मीटिंग से पहले व्यापारियों ने विरोध जताने के लिए अपनी-अपनी ज्वेलर्स की दुकान बंद कर दिया. व्यापारियों ने कहा कि दुकान लूटने और हत्या करने वाले को जल्द से जल्द गिरफ्तार किया जाए और कानून के अनुसार कड़ी से कड़ी सजा दी जाए. 

मेरठ में ज्वैलर व्यापारी की हत्या मामले में इस कारण थानेदार को किया गया सस्पेंड

वहीं इस आम सभा में जमकर राजनीति भी हुई‌ और समाजवादी पार्टी जिला अध्यक्ष राजपाल सिंह और भाजपा नेता अतुल प्रधान के समर्थक व्यापारी आपस में ही‌ कहा सुनी करने लगे. ऐसा इसलिए हुआ क्योंकि भाजपा नेता अतुल का कहना था कि उनके यहां आने पर ही थानेदार का निलंबन हुआ है. स्थानीय विधायक और सांसद हत्या के दिन बाद भी नहीं आए जिस वजह और लूट वाली जगह जागृति विहार सेक्टर नहीं पहुंचे थे. 

वहीं सभा के दौरान कारोबारियों ने तय किया है कि सीनियर सुपरिन्टेन्डेन्ट ऑफ़ पुलिस (एसएसपी) से दोपहर बाद उनका प्रतिनिधि-मंडल मिलेगा. कल यानी कि गुरुवार दोपहर 2 बजे अमन के परिवार वालों भागमल ज्वेलरी पर शोक सभा बुलाई है. 

मेरठ में डॉक्टर की जगह नर्स ने करवाई डिलीवरी, फिर महिला को बंदी बनाकर की ये मांग

बता दें कि जागृति विहार सेक्टर 2 में भागमल ज्वेलरी शोरूम मंगलवार करीब दोपहर 1 बजे चार बदमाश घुस गए थे. इस दौरान शोरूम मालिक सतीश जैन पर तमंचा लगाकर 10 लाख रुपये नगद और तीन लाख का सोना-चांदी लूट ले गए थे. लूट के समय घर के अंदर से उनका बेटा अमन आया और उसने बदमाशों में से एक बदमाश को पकड़ लिया. ऐसे में चारों बदमाशों में से एक ने अमन को गोली मार दी.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें