मेरठ: गुलाब देकर लोगों को समझाया गया स्वच्छता का महत्व,कोरोना नियमों को भी बताया

Smart News Team, Last updated: 08/09/2020 05:26 PM IST
  • मेरा शहर मेरी पहल की पांचवीं वर्षगांठ पर टीम ने लोगों को स्वच्छता के लिए जागरूक किया. इसके अलावा मिशिका सोसायटी की ओर से लोगों को यातायात नियमों से अवगत कराया.
शहर को साफ करते मेरा शहर मेरी पहल के सदस्य

मेरठ. सोमवार को मेरठ में 'मेरा शहर मेरी पहल' को पांच साल पूरे होने के होने के उपलक्ष्य में कई कार्यक्रम हुए. टीम ने आदर्श चौराहे के रूप में विकसित कमिश्नरी चौराहे पर श्रमदान किया और स्वच्छता अभियान चलाया. इसके साथ ही लोगों को गुलाब के फूल देकर शहर में स्वच्छता के लिए प्रोत्साहित किया गया.

टीम के सदस्यों का कहना है कि कोरोना काल ने वैसे भी हम सभी को स्वच्छता का महत्व बता दिया है. इस समय कोविड-19 के संक्रमण से बचने के लिए सफाई सबसे जरूरी है.

मेरठ में मर्डर: ज्वैलर की हत्या, 10 लाख कैश और 5 किलो चांदी की लूट

इसके अलावा कोरोना काल को ध्यान में रखते हुए मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग जैसे नियमों का पालन करने के लिए लोगों से अपील की. कार्यक्रम में शामिल हुए लोगों को स्वच्छता की शपथ भी दिलाई गई. श्रमदान की टीम में अमित अग्रवाल, कैप्टन सीपीएस यादव, राजेन्द्र गुप्ता, प्रिंस अग्रवाल, नितिन वर्मा, मनोज कुमार, दिव्या सैनी, अनु भाटिया, अमित सबरवाल सचिन बंसल, लक्ष्मी शर्मा, जितेंद्र कुमार, दिनेश शर्मा, निर्दोष शर्मा और नीरज कान्त मिश्रा शामिल रहे.

मेरठ: बाइक से स्टंटबाजी में बच्ची घायल, विरोध करने पर पिता को ही पीट दिया

इसके अलावा मेरठ की मिशिका सोसायटी के चेयरमैन अमित नागर के नेतृत्व में उनकी टीम ने लोगों को ट्रैफिक नियमों की जानकारी दी.टीम ने लोगों को बताया कि नियमों का पालन करते हुए वाहन चलाए और सुरक्षित घर पहुंचे. इस दौरान वाहन चालकों को यातायात नियमों से संबंधित पंपलेट भी दिए.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें