सावधान! व्हाट्सएप और FB नहीं है सेफ, अश्लील वीडियो कॉल से किया जा रहा ब्लैकमेल

Smart News Team, Last updated: 21/09/2020 01:49 PM IST
  • साइबर अपराधियों और ब्लैकमेल करने वाला गिरोह ने अश्लील वीडियो कॉल रिकॉर्ड करके ब्लैकमेलिंग करने नया हथकंडा अपनाया है. 
अश्लील वीडियो कॉल रिकॉर्ड करके ब्लैकमेलिंग किया जा रहा है.

मेरठ. मेरठ जोन के यूपी पुलिस सायबर एक्सपर्ट के पास अश्लील वीडियो कॉल रिकॉर्ड करके ब्लैकमेलिंग करने का मामला सामने आया है. ऐसे दो मामले बरेली और आगरा से पुलिस के पास आए हैं.जानकारी के मुताबिक, मोबाइल पर किसी अनजान नंबर से व्हाट्सएप या फेसबुक मैसेंजर पर वीडियो कॉल आता हैं. 

कॉल को रिसीव करने के बाद दूसरी ओर से युवती अश्लील हरकतें करती हैं. इस दौरान युवती की ओर से कॉल को रिकॉर्ड कर लिया जाता हैं. बाद में इसी रिकॉर्डिंग को सार्वजनिक करने की धमकी देकर लोगों को ब्लैकमेल किया जाता हैं.

मेरठ: NSG कमांडो बनकर फेसबुक के जरिए मैनेजर से 72 हजार रुपये की ठगी

माना जा रहा है कि साइबर अपराधियों और ब्लैकमेल करने वाला गिरोह ने ये नया हथकंडा अपनाया है. वीडियो कॉल दूसरी ओर से आई हो, आपने रिसीव कर लिया. आपने कुछ भी बात नहीं किया. भले ही आपने कुछ ही सेकंड में कॉल काट दी हो. लेकिन, इतनी ही रेकॉर्डिंग इस गिरोह के लिए पर्याप्त होती हैं. इसी कॉल रेकॉर्डिंग को सार्वजनिक करने की धमकी देकर लोगों को ब्लैकमेल करना शुरू कर देते हैं. लोग अपनी बदनाम के डर के कारण पुलिस के पास जाने से हिचकते हैं.

मेरठ: CM योगी आज करेंगे व्यापारियों से वीडियो कॉल, लघु उद्योग विकसित पर होगी बात

यूपी पुलिस साइबर एक्सपर्ट के कर्मवीर सिंह ने बताया कि इस तरह का गिरोह एक्टिव हैं, जो व्हाट्सएप पर वीडियो कॉल करने के बाद अश्लील हरकतें करते हुए रिकॉर्ड कर लेते हैं. इसके बाद इसी रेकॉर्डिंग के आधार पर ब्लैकमेल किया जाता हैं. ऐसे में बचाव के लिए अनजान कॉल को रिसीव नहीं करें. पीड़ितों को पुलिस से शिकायत करनी चाहिए.

सावधानी बरतें-

1. अनजान नम्बर से वीडियो कॉल को रिसीव नहीं करें.

2. सोशल मीडिया प्लेटफार्म का इस्तेमाल करते हुए अनजान लोगों से दूर रहे.

3. अगर कोई ब्लैकमेल करता है तो पुलिस से शिकायत करें.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें