मेरठ: कोचिंग के सामने खड़े होने पर हो सकती है कार्रवाई, पुलिस कोचिंग संचालकों के बीच हुई बैठक

Smart News Team, Last updated: 11/02/2021 07:35 AM IST
  • मेरठ में कोचिंग के बाहर छात्राओं के साथ छेड़छाड़ और छात्रों के बीच बढ़ रहे विवादों को देखते हुए बुधवार को कोचिंग संचालक और कोतवाल के बीच बैठक हुई. जिसके यह तय किया गया कि कोचिंग में पढ़ने वालों छात्रों की एक आईडी जमा करना होगा और कोचिंग के सामने किसी भी संदिग्ध के दिखाई देने पर पुलिस को सूचना देना होगा.
मेरठ कोचिंग के सामने खड़े होने पर हो सकती है कार्रवाई, पुलिस कोचिंग संचालक के बिच हुई बैठक

मेरठ. अगर अब कोचिंग के सामने कोई संदिग्ध युवक या कोई बदमाश खड़ा हुआ दिखाई देने पर उसकी खैर नहीं होगी. यदि अब कोई भी अपरिचित मेरठ में कोचिंग के सामने बेवजह खड़ा हुआ पाया जाएगा तो उसके ऊपर कार्रवाई की जाएगी. जिसके लिए बुधवार को कोतवाली में कोचिंग संचालक और कोतवाल के बीच बैठक भी हुई है. इस बैठक को कोचिंग के बाहर बढ़ रहे लड़कियों के साथ छेड़छाड़ को देखते हुए की गई. साथ ही छात्रों के बीच बढ़ रहे विवादों को देखते हुए भी इस बैठक को बुलाया गया था.

वहीं इस बैठक में मेरठ कोतवाली के कोतवाल धर्मेंद्र राठौर ने इस बैठक के दौरान कहा कि मेरठ के कोचिंग के बाहर लड़कियों के साथ छेड़छाड़ की घटनाएं बढ़ गई है. जिसे रोकने के लिए सभी कोचिंग संचालकों को पुलिस का साथ देना होगा. जिसके लिए सभी कोचिंग संचालक को यदि कोई कोचिंग के बाहर संदिग्ध युवक या व्यक्ति दिखाई दे तो तुरंत पुलिस को सूचिना देना होगा.

यूपी में लॉकडाउन उल्लंघन-ट्रैफिक नियम न मानना पड़ा मंहगा, घर आ रहे ई-चालान नोटिस

इसके साथ ही उन्होंने ने आगे कहा कि कोचिंग सेंटरों के बाहर आए दिन छात्रों के बीच विवाद की घटनाएं देखने को मिल रही है. ये भी कहा कि कोचिंग में पढ़ने वाले सभी छात्रों का पहचान पत्र या कोई आईडी कोचिंग में जरूर जमा करा लें. वही उनके बीच किसी भी तरह का कोई भी विवाद होने पर उसकी सूचना पुलिस को देनी होगी और ऐसे चारों का विशेष तौर पर ध्यान भी देना होगा. कोतवाल और कोचिंग संचालक के बीच हुई इस बैठक में राहुल, धीरू यादव, मुकेश सौरभ, कपिल यादव इत्यादि मौजूद थे.

वेतन और पेंशन को लेकर यूपी जल निगम के कर्मचारी 16 फरवरी से करेंगे अनशन

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें