मेरठ पुलिस के ऑपरेशन में 3 आर्म्स फैक्ट्री मिली, 140 अरेस्ट, 239 हथियार जब्त

Smart News Team, Last updated: 07/09/2020 07:02 PM IST
  • मेरठ पुलिस ने अवैध तमंचा, पिस्तौल जैसे हथियार बनाने वाले आर्म्स डीलर और स्मगलर के खिलाफ एक बड़ा ऑपरेशन चलाया है. पुलिस को 24 घंटे के ऑपरेशन में 3 आर्म्स फैक्ट्री मिली जहां से 140 लोगों को गिरफ्तार किया गया है और 239 हथियार बरामद किए गए हैं.
पश्चिमी यूपी में मेरठ अवैध हथियारों के बिजनेस का बड़ा सेंटर है. बरामद हथियारों को पुलिस ने मीडिया के सामने रखा तो ऐसा लगा कि तमंचों की प्रदर्शनी लगी है.

मेरठ. पश्चिमी उत्तर प्रदेश में अवैध हथियारों के व्यापार के बड़े सेंटर मेरठ में पुलिस ने देसी तमंचा, पिस्तौल वगैरह बनाने वाले गिरोह के खिलाफ एक बड़ा ऑपरेशन चलाया है. मेरठ पुलिस के 24 घंटे के इस ऑपरेशन में अवैध हथियार की 3 फैक्ट्री पकड़ गई है जहां से पुलिस को भारी मात्रा में आर्म्स और दूसरे हथियार मिले हैं. पुलिस ने भारी मात्रा में हथियार बनाने में इस्तेमाल होने वाले सामान को भी जब्त किया है. पुलिस ने जब इन हथियारों को मीडिया के सामने पेश किया तो हथियारों की इतनी संख्या और मात्रा को देखकर लग रहा था जैसे तमंचों की प्रदर्शनी लगी है.

एसएसपी अजय साहनी ने बताया कि इलाके में क्राइम और क्रिमिनल को कंट्रोल करने के लिए पुलिस ने रविवार से सोमवार तक 24 घंटे का एक स्पेशल ऑपरेशन चलाया था. इस दौरान अवैध असलहा, गोकशी, लूट, डकौती, चेन स्नैचिंग जैसे क्राइम में शामिल अपराधियों पर दबिश दी गई. पुलिस को आश्चर्यजनक रूप से इस ऑपरेशन के दौरान अवैध हथियारों के धंधे में लगे लोगों को बड़ी संख्या में पकड़ने की सफलता मिली है.

मेरठ में प्रेमिका की हत्या करके थाने पहुंचा प्रेमी, बोला- ब्लैकमेल कर रही थी

एसएसपी अजय साहनी ने पुलिस लाइन में प्रेस वार्ता करते हुए बताया कि इस ऑपरेशन में मेरठ पुलिस की 10 टीमों को लगाया गया था. पुलिस ने 24 घंटे के अंदर तीन तमंचा फैक्ट्री पकड़ ली जहां से हथियार और हथियार बनाने के सामान बड़ी मात्रा में मिले हैं. पुलिस ऑपरेशन में कुल 140 लोगों को गिरफ्तार किया गया है और 239 अवैध शस्त्र बरामद किए गए हैं. 

मेरठ को पश्चिमी उत्तर प्रदेश इलाके में अवैध हथियारों के गढ़ के तौर पर देखा जाता है. पुलिस के इस ऑपरेशन से इस धंधे में लगे लोगों की कमर टूटी है लेकिन धंधे में लगे लोगों की संख्या और दायरा इतना बड़ा है कि पुलिस को लगातार ऐसे ऑपरेशन चलाने होंगे तभी इलाके में तमंचे चमकने पर लगाम लगेगी.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें