मेरठ: गर्भवती युवती का शव डेढ़ साल से लावारिस, पहचान के लिए परिजनों की खोज जारी

Smart News Team, Last updated: Fri, 25th Sep 2020, 9:09 AM IST
  • मेरठ में डेढ़ साल पहले मिला एक गर्भवती युवती का शव अब भी लावारिस ही है. पुलिस डेढ़ साल से लावारिस शव की पहचान के लिए युवती के परिजनों की खोज कर रही है. एक बार फिर पुलिस ने शव की फोटो आस-पास के जनपदों में भेजी है.  
मेरठ: गर्भवती युवती का शव डेढ़ साल से लावारिस, पहचान के लिए परिजनों की खोज जारी (प्रतीकात्मक फोटो)

मेरठ. मेरठ के इंचौली थाना क्षेत्र लावड़ में पुलिस को डेढ़ साल पहले एक युवती की लाश मिली थी. इस शव की शिनाख्त अभी तक नहीं हो पाई है. युवती का शव डेढ़ साल बाद आज भी लावारिस है. युवती के शव का पुलिस ने पोस्टमार्टम करवाया था जिससे जानकारी मिली थी कि युवती की हत्या हुई थी और मर्डर के समय युवती गर्भवती थी. पुलिस अभी तक युवती के परिजनों की तलाश कर रही है. 

पुलिस ने जानकारी दी है कि 23 मार्च 2019 को लावड़ के जंगल में उन्हें एक युवती की लाश मिली. उस समय लड़की 20 वर्षीय होगी. पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा. इसकी रिपोर्ट में खुलासा हुआ कि युवती गर्भवती थी और उसका कत्ल हुआ था. पुलिस ने युवती के परिजनों को ढूंढने की कोशिश की. शव का फोटो अन्य थानों में भी भेजा गया और अन्य थानों में गुमशुदगी की शिकायतों से भी पहचान की कोशिश की गई.

मेरठ: पुलिस में सुनवाई नहीं होने पर पीड़ित लोगों ने बनाया पलायन को हथियार

परिजनों के ना मिलने पर पुलिस ने शव का लावारिस में अंतिम संस्कार कर दिया और पहचान के लिए ज्वैलरी, कपड़े और बिसरा सुरक्षित रख लिया. डेढ़ साल बाद भी पुलिस को युवती के परिजन नहीं मिले हैं. कम उम्र में गर्भवती और हत्या के कारण पुलिस को ये ऑनर किलिंग का मामला लग रहा है. पुलिस को शक है कि युवती को उसके परिजनों ने ही मारा था इसलिए आसपास के जनपदों में भी कोई गुमशुदगी की रिपोर्ट नहीं है. 

CM योगी को ट्वीट किया तो मेरठ में मचा हड़कंप, आधा घंटे में सैंपल लेने पहुंची टीम

साथ ही ये भी कहा जा रहा है कि हत्या लूट के लिए नहीं हुई थी. दरअसल, पुलिस को जब लाश मिली तब युवती के पहने गहने सही सलामत थे. लूट के लिए हत्या होती तो शव पर गहने नहीं मिलते. वहीं युवती के लापता होने पर भी घरवाले आस-पास के जनपद में शिकायत करते. लेकिन ऐसा कोई मामला नहीं है. संभावना है कि कम उम्र में युवती के गर्भवती होने के कारण परिजनों ने उसकी हत्या की और थाने में कोई शिकायत भी दर्ज नहीं कराई. पुलिस ने दोबारा शव के फोटो दूसरे जनपदों को भेजे हैं.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें