मेरठ में 50 मकानों पर लगा बिकाऊ का पोस्टर, पूरी गली के घर बिकने के लिए तैयार

Smart News Team, Last updated: 06/09/2020 01:16 PM IST
  • मेरठ के कंकडखेड़ा के श्रद्धापुरी संतविहार की गली-2 में एक महिला की डेयरी और उसके द्वारा की जा रही अभद्रता को लेकर पूरी गली के मकान बिकने के लिए तैयार हैं. लोगों ने अपने घरो के बाहर दबंगी के कारण मकान बिकाऊ है का पोस्टर लगा रखा है.
घरों के बाहर लगे मकान बिकाऊ के पोस्टर

मेरठ. मेरठ शहर के कंकडखेड़ा के श्रद्धापुरी संतविहार की गली-2 में सभी मकानों पर बिकाऊ है के पोस्टर चिपका दिए गए हैं. इस गली में सिर्फ एक घर ऐसा है जिस पर यह पोस्टर नहीं चिपका है. गली के लोगों ने दबंगई और गंदगी का आरोप लगाते हुए कहा है कि गली में 22 हजार रुपये गज जमीन का रेट है, जो भी मकान खरीदना चाहता है खरीद सकता है.

दरअसल इस इलाके में पूरा विवाद एक महिला की डेयरी और उसके द्वारा की जा रही अभद्रता को लेकर है. पिछले चार दिन से कॉलोनी में इसी बात को लेकर मेरठ के जिला अस्पताल में बवाल भी हो चुका है.

मेरठ-दिल्ली एक्सप्रेस वे दिसंबर तक होगा पूरा, जनवरी से फर्राटा भरेंगी गाड़ियां

बता दें कि संत विहार कॉलोनी गली-2 में लगभग 50 घर हैं. शनिवार सुबह लोगों ने कॉलोनी में एक मकान को छोड़कर बाकी सभी मकानों पर मकान बिकाऊ के पोस्टर चिपका दिया. इन पोस्टरों पर लिखा था कि दबंगई के कारण मकान बिकाऊ है. यह पूछे जाने पर कि यहां मकान बिक्री के लिए बताए थे, लेकिन यहां तो पूरी गली में ही बिकाऊ के पोस्टर चस्पा हैं ऐसा क्यों है. लोगों ने बताया यहां 22 हजार रुपये गज जमीन का रेट है और बाकी मकान की कीमत लगाया जा रहा है. लोगों ने कहा कि मकान की एक-एक ईंट खुद लगवाई थी, लेकिन अब मजबूरी में मकान बेचना पड़ रहा है. उन्होंने बताया कि यहां सभी लोग गली में रहने वाले एक परिवार की दबंगई से परेशान हैं. लोगों ने आरोप लगाया कि यहां महिला डेयरी चला रही है और अपने पीछे वाले मकानों का पानी बंद कर दिया है. ऐसे में पानी निकलने में समस्या हो रही है और इसका विरोध करने पर गली वालों के साथ मारपीट की जाती है.

UP का मोस्ट वांटेड आशू जाट मुंबई से गिरफ्तार, एक रात में लूटे थे 3 पेट्रोल पंप

जानकारी के मुताबिक कॉलोनी में चार दिन पहले महिला के परिवार के साथ इस कॉलोनी में रहने वाले यूपी पुलिस के हेड कांस्टेबल और एक अन्य परिवार का विवाद हो गया था. इसे लेकर थाना और जिला अस्पताल तक बवाल काटा गया. यहां तक कि दोनों पक्षों पर मुकदमा भी दर्ज किया गया. अब इसके बाद से पूरी कॉलोनी उस परिवार के खिलाफ है और विरोध में पूरी गली में मकान बिकाऊ के पर्चे लगा दिए हैं.

उत्तर प्रदेश महिला आयोग के व्हाट्सएप नंबर पर भी कर सकते हैं उत्पीड़न की शिकायत

दूसरा तरफ मकान बिकाऊ मामले की जानकारी होने पर पुलिस-प्रशासन में भी हड़कंप मच गया. एलआईयू और पुलिस टीम मोहल्ले में लोगों से बातचीत करने पहुंची और बयान दर्ज कराए. इस पूरे मामले में रिपोर्ट बनाकर पुलिस-प्रशासनिक अधिकारियों को भेजी गई है. वहीं कॉलोनी के लोगों ने भी क्षेत्र के विधायक सत्यप्रकाश अग्रवाल और एसएसपी अजय साहनी को लिखित शिकायत भेज दी है. इस मामले में एसएसपी अजय साहनी ने कहा कि इसकी जानकारी उन्हें हुई है. इस पूरे मामले में सीओ दौराला को जांच के लिए निर्देश दिया गया है. वहीं मामले में एसपी सिटी को भी निगरानी रखने के लिए भी कहा गया है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें