RSS कार्यकर्ता ने दूसरे समुदाय पर लगाया धर्मांतरण का आरोप, हत्या की भी जताई आशंका

Somya Sri, Last updated: Wed, 10th Nov 2021, 11:04 AM IST
  • मेरठ जिले के खरखौदा में आरएसएस कार्यकर्ता ने दूसरे समुदाय के लोगों पर जबरन धर्मांतरण का दबाव बनाने का आरोप लगाया है. आरएसएस कार्यकर्ता कुलदीप त्यागी का कहना है कि उसके गांव में मुस्लिम बाहुल्य है. एक दिन दूसरे समुदाय के लोग उसके घर आ धमके ठगे और धमकी थी कि वे परिवार समेत धर्म परिवर्तन कर लें. इधर पुलिस का कहना है कि यह पूरा मामला जमीन कब्जा को लेकर उठे विवाद से जुड़ा है.
RSS कार्यकर्ता ने दूसरे समुदाय पर लगाया धर्मांतरण का आरोप, हत्या की भी जताई आशंका (फाइल फोटो)

मेरठ: उत्तर प्रदेश के मेरठ से धर्मांतरण का मामला सामने आया है. मेरठ जिले के खरखौदा में आरएसएस कार्यकर्ता ने दूसरे समुदाय के लोगों पर जबरन धर्मांतरण का दबाव बनाने का आरोप लगाया है. आरएसएस कार्यकर्ता कुलदीप त्यागी उर्फ बबलू का कहना है कि उसके गांव में मुस्लिम बाहुल्य है. वहीं बबलू ने आरोप लगाया है कि एक दिन दूसरे समुदाय के लोग उसके घर आ धमके ठगे और धमकी थी कि वे परिवार समेत धर्म परिवर्तन कर लें या 15 दिन में गांव छोड़कर चले जाए.

कुलदीप त्यागी का कहना है कि वारदात 24 अक्टूबर की है. उसने अपनी हत्या की भी आशंका जताई है. त्यागी का कहना है कि अगर वो धर्म परिवर्तन करने से मना करता है तो उसे पलायन की धमकी दी जा रही है. हालांकि पुलिस कुछ और कह रही है. पुलिस का कहना है कि कुलदीप त्यागी एक सरकारी जमीन पर कब्जा करना चाहता है. दूसरे समुदाय के लोग इसके खिलाफ हैं. वो इसका विरोध कर रहे हैं. इसके चलते आरोप प्रत्यारोप चल रहा है.

परिवार के 15 सदस्यों ने 18 साल बाद हिंदू धर्म में की वापसी, रहिसू बना यशपाल और..

पुलिस का कहना है कि ये पूरा विवाद सरकारी जमीन पर कब्जे को लेकर है. पुलिस का कहना है कि कुलदीप त्यागी की ओर से इससे पहले कभी जमीन विवाद को लेकर कोई शिकायत नहीं आयी है. पुलिस इस पूरे मामले को लेकर छानबीन में जुटी है. पुलिस का कहना है कि दोनों पक्षो की बात सुनने के बाद ही इस मामले का समाधान निकल सकेगा. फिलहाल पुलिस मामले की तफ्तीश में जुटी है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें