मेरठ स्पोर्ट्स संघ ने नगर निगम के काम पर सड़क जाम कर जताया विरोध

Smart News Team, Last updated: 29/11/2020 04:25 PM IST
  • शहर के स्पोर्ट्स संघ ने नगर निगम के द्वारा चल रहे काम की रफ्तार को देखते हुए विरोध जताया और सड़क जाम कर दिया. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि अगर समय से काम पूरा नहीं हुआ तो निगम के अधिकारियों का घेराव करेंगे.
व्यापारियों को समझाते सूबे के ऊर्जा मंत्री

मेरठ: शहर की सूरजकुंड रोड स्थित स्पोर्ट्स व्यापारियों ने रविवार को नगर निगम की ओर से कराए जा रहे काम को रुकवा दिया. इसके साथ ही रास्ता भी जाम कर गुस्से से लबालब व्यापारिपयों ने विरोध प्रदर्शन भी किया. मौके पर सूरजकुंड रोड स्पोर्ट्स गुड्स व्यापार संघ के पदाधिकारी, व्यापारी और इलाके के लोग मौजूद रहे. व्यापारियों ने बताया कि काम में रफ्तार दिन प्रतिदिन पकड़नी चाहिए, लेकिन हो इसके उलट रहा है. यह काम इतनी धीरा चल रहा है कि मत पूछो, अब तो यह नौबत आ पड़ी है कि इससे उनका व्यापार प्रभावित होने लगा है.

रविवार सुबह में व्यापारियों ने सूरजकुंड रोड पर बनी आधी पुलिया पर रास्ता बंद कर दिया और इसके बाद उन्होंने हंगामा किया. उन्होंनें कहा कि नगर निगम द्वारा मुख्य मार्ग की पुलिया, कई दूसरे रास्तों की पुलिया और नालियां बनने में अनावश्यक देरी हो रही है. वे आगे बताते हैं कि इस काम को निगम ने आठ माह पूर्व शुरू किया था. लेकिन, काम अधूरा छोड़ दिया और ऊपर से देरी कर उनके धंधे को चौपट कर रखा है. उन्होंने आगे बताया कि अगर काम इसी तरह चलता रहा तो हमारा व्यापार भी खत्म होने की कगार पर पहुंच जाएगा.

लखनऊ स्टेशन पर बिना मास्क घूमने वालों पर रेलवे की नजर, जुर्माना वसूलने की तैयारी

व्यापारी आगे अपनी बात रखते हुए कहते हैं कि अब देरी को देखते हुए नगर निगम को ठोस कदम उठाने चाहिए. जिससे आगे दोगुना समय ना लगे. अगर ऐसा होता है तो व्यापारियों को उद्योग में उत्पादिते सामानों की कीमत भी कम करनी पड़ सकती है जो बाजार भाव से कम की रहेगी. 

आम आदमी पार्टी UP पंचायत चुनाव में उतरी, ग्राम प्रधान उम्मीदवारों को दिए फार्म

 व्यापारी अनुज सिंघल ने कहा, निगम अधिकारियों ने इस तरफ ध्यान नहीं दिया तो यहां रास्ते को पूरी तरह से रोक देंगे और नगर निगम अधिकारियों का भी घेराव करेंगे. इस प्रदर्शन में सूरजकुंड रोड स्पोर्ट्स गुड्स व्यापार संघ के अध्यक्ष अनुज सिंघल, महामंत्री रवींद्र सिंघल, कोषाध्यक्ष इकबाल सिंह, वरिष्ठ मंत्री अक्षत गोयल, उपाध्यक्ष जगदीश कुमार, मनीष अग्रवाल, हरविंदर सिंह, अनुराग बंसल, दीपक तलवार मुख्य रूप से शामिल रहे.

लव जिहाद का पहला केस दर्ज, धर्म परिवर्तन का दबाव बनाया, जान से मारने की धमकी भी दी

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें