मेरठ: सेवकों के साथ ग्रामीणों ने बांधों की मरम्मत शुरू की

Smart News Team, Last updated: 14/08/2020 07:26 AM IST
  • गंगा में बढ़ते जलस्तर और कटान को देखते हुए बांधों की मरम्मत कार्य युद्ध स्तर पर भाजपा पूर्व विधायक गोपाल काली, सपा पूर्व विधायक प्रभुदयाल वाल्मीकि, सपा नेता किशोर टांक आदि तटबंध पर पहुंचे
प्रतीकात्मक तस्वीर

मेरठ। गंगा में बढ़ते जलस्तर और कटान को देखते हुए गुरुवार को सेवकों के साथ ग्रामीण स्वयं भी काम करने के लिए तटबंध पर पहुंच गए. इस दौरान ग्रामीणों ने भी युद्ध स्तर पर काम शुरू कर दिया. उन्होंने सेवकों के साथ मिलकर तटबंध के कटान पर मरम्मत कार्य शुरू किया.

गंगा के बढ़ते जलस्तर को देखते हुए गुरुवार को एडीएम वित्त एवं राजस्व और एसडीएम मवाना ने तटबंध का निरीक्षण किया. हंसापुर परसापुर के सामने तेजी से हो रहे कटान को रोकने के लिए तटबंध को मजबूत करने का कार्य जारी रहा. कारसेवा वाले व ग्रामीण भी तटबंध को मजबूत करने मे जुटे है. वहीं सिंचाई विभाग के अधिकारी भी तटबंध पर ही मौजूद है। हालांकि शाम तक जलस्तर में कमी दर्ज की गई.

बिजनौर बैराज के अवर अभियंता पीयूष कुमार ने बताया कि बैराज से गुरुवार शाम तक नदी में एक लाख 15 हजार क्यूसेक पानी डिस्चार्ज चल रहा है। जबकि हरिद्वार से जलस्तर में काफी गिरावट आई है और घटकर कुल 55 हजार क्यूसेक रह गया है. ग्रामीणों को जब पता चला कि जलस्तर में काफी गिरावट आई है तो उन्होंने राहत की सांस ली. परंतु अभी तक खादर क्षेत्र में जलस्तर कम नहीं हुआ है. वहीं सिरजेपुर, हादीपुर गांवड़ी, किशनपुर, भीकुंड, दूधली खादर, बस्तौरा व मखदूमपुर आदि गांवों के खेतों में पानी भरा हुआ है.

बढ़ते जलस्तर को देख एडीएम वित्त एवं राजस्व सुभाष चंद प्रजापति, एसडीएम मवाना कमलेश कुमार गोयल, तहसीलदार अजय उपाध्याय गंगा किनारे तटबंध की स्थिति का जायजा लेने के लिए पहुंचे. उन्होंने कहा कि जलस्तर में काफी गिरावट आई है। तटबंध को मजबूत करने का कार्य जारी रहेगा.

इसके अलावा सिंचाई विभाग के अधिशासी अभियंता द्रुण कुमार, एसडीओ पंकज कुमार जैन आदि भी मौजूद रहे. वहीं, भाजपा के पूर्व विधायक गोपाल काली, सपा के पूर्व विधायक प्रभुदयाल वाल्मीकि, सपा नेता किशोर टांक आदि तटबंध पर पहुंचे और ग्रामीणों को हरसंभव मदद का आश्वासन दिया.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें