मेरठ में कोरोना जांच टीम गई तो गांववालों ने कर दी पिटाई

Smart News Team, Last updated: 06/12/2020 04:20 PM IST
  • परतापुर के मोहद्दीनपुर में एक ऐसा मामला सामने आया है जिसमें एक पॉजिटिव मिलने के बाद जब भूड बराल प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के डॉ और उनकी टीम संक्रमित व्यक्ति को अस्पताल में शिफ्ट कराने पहुंची तो वहां लोगों ने उनका विरोध कर दिया. बताया जा रहा है कि डॉक्टरों के साथ स्टाफ के साथ भी जमकर मारपीट की गई है.
मेरठ में कोरोना जांच टीम को गांव वालों ने खदेड़ा

मेरठ- देश के साथ ही उत्तर प्रदेश में भी कोरोना का कहर लगातार बढ़ रहा है. कोरोना से बचाव के लिए सरकार कई तरह के कदम उठा रही है. इसी के मद्देनजर मेरठ जिले में भी बढ़ते कोरोना वायरस संक्रमण को देखते हुए चिकित्सा विभाग सजग है और डोर टू डोर जाकर कोरोना वायरस संक्रमित लोगों की पहचान कर रहा है.

मेरठ: पैसों के लेनदेन को लेकर दो पक्षों में हुआ पथराव और फायरिंग, दो घायल

लेकिन इस दौरान परतापुर के मोहद्दीनपुर में एक ऐसा मामला सामने आया है जिसमें एक पॉजिटिव मिलने के बाद जब भूड बराल प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के डॉ और उनकी टीम संक्रमित व्यक्ति को अस्पताल में शिफ्ट कराने पहुंची तो वहां लोगों ने उनका विरोध कर दिया. बताया जा रहा है कि डॉक्टरों के साथ स्टाफ के साथ भी जमकर मारपीट की गई है. साथ ही टीम पर पथराव भी किया. जिसकी तहरीर डॉक्टर द्वारा परतापुर थाने में दे दी गई है.

मेरठ: एक करोड़ के गांजे सहित 3 गिरफ्तार, 6 दिसंबर के मद्देनजर जिले में हाई अलर्ट

प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र भूड बराल के प्रभारी ने बताया कि बीते 3 दिन में भूडबराल प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र क्षेत्र छज्जूपुर और मोहद्दीनपुर के दो कोरोना वायरस संक्रमित लोगों की मौत हो चुकी है. जिसके देखते हुए जिला प्रशासन के निर्देश पर कोरोना वायरस संक्रमित गंभीर मरीजों को आइसोलेशन सेंटर पर शिफ्ट किया जा रहा है. प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र भूड बराल के प्रभारी ने आगे बताया कि लोगों के इस तरह के व्यवहार को देखते हुए चिकित्सक और उनकी टीम का मनोबल टूट रहा है.

मेरठ : कोहरे ने थामी वाहनों की रफ्तार, फसलों को भी हो सकता है नुकसान

मेरठ: दो साल की बच्ची को पालतू कुत्ते ने नोंचा, गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती

मेरठ को मिलेंगी कोरोना की साढ़े पाच लाख डोज, 28 कोल्ड चेन में रखी जाएंगी

मेरठ : 50 साल से एमएलसी रहे ओमप्रकाश शर्मा ने कहा- षड़यंत्र के तहत हराया

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें