मेरठ-दिल्ली एक्सप्रेस-वे: 15 मार्च तक कार्य पूरा न होने पर एजेंसी होगी जिम्मेदार

Smart News Team, Last updated: Sat, 27th Feb 2021, 12:20 PM IST
  • मेरठ-दिल्ली एक्सप्रेस-वे के निर्माण को लेकर निर्माण एजेंसी ने 15 मार्च तक इसके पूरे होने का दावा किया है जिसका निर्माण कार्य चौथे चरण में है. हालांकि एक्सप्रेस-वे के पूर्ण होने की तिथि कई बार आगे बढ़ाई जा चूकी है. इस कारण अगर यह कार्य तय तिथि पर पूरा नहीं होगा तो इसके लिए एजेंसी जिम्मेदार होगी.
दिल्ली मेरठ एकप्रेस-वे का कार्य 15 मार्च तक पूरा न होने पर एजेंसी होगी जिम्मेदार.( सांकेतिक फोटो )

मेरठ-दिल्ली एक्सप्रेस-वे के निर्माण-कार्य को लेकर इसकी निर्माण एजेंसी जीआर इंफ्रा ने 15 मार्च तक इसके पूरे होने का दावा किया है. एजेंसी के अधिकारियों का कहना है कि हर हाल में बचा हुआ काम 15 मार्च तक पूरा कर लिया जाएगा. हालांकि इसके निर्माण कार्य में ज्यादा काम शेष नहीं है इस कारण अगर यह निर्माण-कार्य तय तिथि तक पूरा नहीं हो पाता है, तो यह जान-बूझकर किया हुआ ही होगा. इसके लिए निर्माण एजेंसी की कार्यशैली पूर्ण रूप से जिम्मेदार होगी.

गौरतलब है कि एक्सप्रेस-वे के पूर्ण होने की तिथि कई बार आगे सरक चुकी है. जिसकी वजह से यह आजकल चर्चा का विषय भी बना हुआ है. इसके पूर्ण होने की तिथि के आगे बढ़ने के कारण ही कार्यदाई एजेंसियों से लेकर मंत्रालय स्तर तक इसके लोकार्पण की तिथि को कई बार बढ़ाया जा चुका है. एक्सप्रे-वे का यह निर्माण कार्य अपने चौथे चरण पर है. जिसके अंतर्गत सिर्फ दो बड़े काम ही शेष बचे है. जिसे 15 मार्च तक आराम से पूरा किया जा सकता है.

CM योगी के निर्देश-इन राज्यों से आने वालों के लिए एक हफ्ते का क्वारंटीन अनिवार्य

एक्सप्रेस-वे के चौथे चरण में मेरठ से डासना के बीच का निर्माण कार्य पूरा होना. जिसमें परतापुर इंटरचेंज पर देहरादून बाइपास के रैंप को रेलवे ओवरब्रिज पर एक्सप्रेस-वे से लिंक करना है. जिसमें अंतिम चरण पर चल रहा मिट्टी का भराव तीन दिन में पूरा हो जाएगा. जिसके बाद इसपर क्रंक्रीट और तारकोल की अंतिम लेयर डालने का काम होगा. कुल मिलाकर यह रैंप लिंक 13 मार्च तक चलने लायक हो जाएगा. इसके अलावा 10 मार्च तक मोदीनगर से देहरादून को जाने वाली लूप साइड की सड़क पूरी हो जाएगी.

सोतीगंज में चोरी की बाइक कटवाने जा रहे दो आरोपी गिरफ्तार

इसके बाद एक्सप्रेस-वे के तैयार लूप व रैंप को इस्टर्न पेरिफेरल से जोड़ा जाएगा. जिसके बाद डासना में एलिवेटेड स्ट्रक्चर को एक्सप्रेस-वे से जोड़ना है. डासना एलिवेटेड स्ट्रक्चर को 12 मार्च तक पूरा किया जा सकता है. यह हिस्सा करीब 70 मीटर का है. जिसमें मिट्टी का भराव, कंक्रीट का काम और तारकोल की अंतिम लेयर डालने के काम होना है. जिसे आराम से तय तिथि में पूरा किया जा सकता है. इसके अलावा साइन बोर्ड, रंग-रोगन आदि का काम भी इसी बीच पूरा किया जा सकता है.

मेरठ: किसान महापंचायत की तैयारी में AAP, संजय सिंह बोले- देश बेच रही मोदी सरकार

पेट में दर्द की शिकायत लेकर लड़की पहुंची डॉक्टर के पास, सच सुनकर सबके उड़े होश

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें