गोरखपुर से शामली तक बनेगा 700 किमी लंबा ग्रीन फील्ड एक्सप्रेस-वे, इन 22 जिलों को मिलेगी रफ्तार

Sumit Rajak, Last updated: Thu, 6th Jan 2022, 12:20 PM IST
  • भारतमाला परियोजना के अंतर्गत उत्तर प्रदेश के शामली जिले को एक और एक्सप्रेस-वे की सौगात मिलने जा रही है. यह करीब 700 किलोमीटर लंबा ग्रीन फील्ड एक्सप्रेस-वे शामली को गोरखपुर से जोड़ेगा. वहीं डीपीआर को तैयार करने के लिए कंसलटेंट एजेंसी नियुक्त कर दी गई है. बता दें कि उत्तर प्रदेश के 22 जिलों की 37 तहसीलों से होकर यह एक्सप्रेस-वे गुजरेगा.
फाइल फोटो

मेरठ. भारतमाला परियोजना के अंतर्गत उत्तर प्रदेश के शामली जिले को एक और एक्सप्रेस-वे की सौगात मिलने जा रही है. यह करीब 700 किलोमीटर लंबा ग्रीन फील्ड एक्सप्रेस-वे शामली को गोरखपुर से जोड़ेगा. वहीं डीपीआर को तैयार करने के लिए कंसलटेंट एजेंसी नियुक्त कर दी गई है. बता दें कि उत्तर प्रदेश के 22 जिलों की 37 तहसीलों से होकर यह एक्सप्रेस-वे गुजरेगा. शामली-गोरखपुर एक्सप्रेस-वे को करीब 90 से 100 मीटर चौड़ा बनाया जाएगा और यह 700 किलोमीटर लंबा होगा.

भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के जरिए गोरखपुर-शामली एक्सप्रेस-वे बनाए जाने की शासन की तरफ से तैयारी शुरूकर दी गई है. साथ ही डीपीआर भी तैयार की जा रही है.  इससे संबंधित जिलों के डीएम को इसकी सूचना दी गई है.भारतमाला परियोजना के तहत गोरखपुर-शामली एक्सप्रेस-वे का प्रोजेक्ट तैयार किया जा रहा है.

अखिलेश को लेकर प्रसपा प्रमुख शिवपाल का बड़ा बयान, सीएम बनाना लक्ष्य

पंजाब-नॉर्थ ईस्ट कॉरिडोर का हिस्सा

यह एक्सप्रेस-वे पंजाब-नॉर्थ ईस्ट कॉरिडोर का हिस्सा है. इस एक्सप्रेस-वे को 110 किलोमीटर लंबे अंबाला शामली एक्सप्रेस-वे के साथ मिलाया जाएगा. जिसके लिए भूमि अधिग्रहण की कार्रवाई शुरू हो गई. अंबाला-शामली एक्सप्रेस-वे 2024 तक बनकर तैयार होगा.

200 किलोमीटर कम होगी दूरी

यह एक्सप्रेस-वे बनने से गोरखपुर से शामली तक का सफर काफी आसान हो जाएगा. फिलहाल गोरखपुर जाने के लिए दिल्ली होकर आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे से होकर जाना पड़ता है और इसकी दूरी 912 किलोमीटर है. इस प्रोजेक्ट से करीब 200 किलोमीटर का सफर कम हो जाएगा. 

22 जिलों को जोड़ेगा यह ग्रीन फील्ड एक्सप्रेस-वे

ग्रीन फील्ड एक्सप्रेस-वे गोरखपुर, बस्ती, संतकबीर नगर, गोंडा,अयोध्या, बाराबंकी, बहराइच, लखनऊ, सीतापुर, हरदोई, शाहजहांपुर, बदायूं, बरेली, रामपुर, मुरादाबाद, संभल, अमरोहा, बिजनौर, मेरठ, मुजफ्फरनगर, सहारनपुर, शामली जिले को यह  एक्सप्रेस-वे जोड़ेगा.

 37 तहसील क्षेत्र की भूमि होगी अधिग्रहण

इस एक्सप्रेस-वे में गोरखपुर,सहजनवा,  खजनी, बस्ती,  खलीलाबाद,हरैया, अयोध्या, सोहावल, तरबगंज, करनैलगंज, केसरगंज, रामनगर, फतेहपुर, लखनऊ का बख्शी का तालाब, सिधौली, मिश्रिख, हरदोई, शाहाबाद, संडीला, शाहजहांपुर, तिलहर, दातागंज, फरीदपुर, बरेली, आंवला, मीरगंज, शाहाबाद, बिलारी, संभल, अमरोहा, धनौरा, चांदपुर, मवाना, खतौली, मुजफ्फरनगर, देवबंद और शामली तहसील की भूमि अधिग्रहीत होगी.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें