70 करोड़ पहुंची डुप्लीकेट NCERT किताबों की वैल्यू, BJP नेता की तलाश में छापे

Smart News Team, Last updated: 23/08/2020 10:14 PM IST
  • एनसीईआरटी की डुप्लीकेट किताब छापने में मेरठ पुलिस ने रविवार को टीपीनगर थाना क्षेत्र में टीएनएचके प्रिंटर एंड पब्लिकेशन को सील कर दिया. पुलिस आरोपी भाजपा नेता को तलाश रही है. नकली किताबों का मामला 70 करोड़ रुपये तक पहुंच गया है.
70 करोड़ पहुंची डुप्लीकेट NCERT किताबों की वेल्यू, फरार BJP नेता की तलाश में छापे

मेरठ. एनसीईआरटी की डुप्लीकेट किताब छापने का मामला 70 करोड़ रुपये तक जा पहुंचा है. इस मामले में भाजपा नेता संजीव गुप्ता, उसका भतीजा समेत चार आरोपी फरार चल रहे हैं. पुलिस ने रविवार को भी कई जगहों पर छापेमारी की लेकिन कोई हाथ नहीं आया. वहीं रविवार को पुलिस ने टीपीनगर थाना क्षेत्र के मोहकमपुर में टीएनएचके प्रिंटर एंड पब्लिकेशन को सील कर दिया. दूसरी ओर पुलिस की दूसरी टीम गजरौला में छापेमारी कर रही है.

मेरठ पुलिस की टीम इनपुट मिलने पर गजरौला में किताबों और अन्य सामान की गिनती कर रही है. यहां की दो प्रिटिंग प्रेस के नमूने लिए गए हैं जिनपर सोमवार को सील लग जाएगी. मेरठ के साथ-साथ गजरौला में भी मेरठ पुलिस पिछले 48 घंटे से गजरौला में डेरा डाले बैठी है. सूत्रों की मानें तो पुलिस ने चार मजदूरों को सरकारी गवाह भी बनाया है.

मेरठ से NCERT की डुप्लीकेट किताबों की देशभर में हो रही थी सप्लाई

मालूम हो कि फरार भाजपा नेता संजीव गुप्ता को भारतीय जनता पार्टी ने शनिवार को निलंबित कर दिया था. सूत्रों की मानें तो संजीव गुप्ता तो नहीं लेकिन उसका भतीजा सचिन गुप्ता शहर के कई इलाकों में देखा गया. कहा जा रहा है कि आरोपी पुलिस से बचने के लिए कागजों को इकट्ठा करने में जुटे हैं.

मेरठ: एसटीएफ के पहुंचने से पहले जलाई NCERT की लाखों की किताबें

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें