नई शिक्षा नीति: निष्ठा के तहत शिक्षकों का शुरू हुआ प्रशिक्षण, बच्चों को खेल खेल में पढ़ाना सीखेंगे टीचर

Naveen Kumar Mishra, Last updated: Tue, 2nd Nov 2021, 12:03 PM IST
काउंसिल फॉर द इंडियन स्कूल सर्टिफिकेट एग्जामिनेशन यानी सीआईएससी की तरफ से सभी स्कूलों के शिक्षकों को नई शिक्षा नीति को सही तरीका से लागू करने के लिए प्रशिक्षित किया जा रहा है. सभी शिक्षकों को सीआईएससीई की ओर से ऑनलाइन प्रशिक्षण दिया जा रहा है.
सीआईएससी की तरफ से सभी स्कूलों के शिक्षकों को नई शिक्षा नीति को सही तरीका से लागू करने के लिए प्रशिक्षित किया जा रहा है

मेरठ। नई शिक्षा नीति 2020 से शिक्षकों और अभिभावकों के साथ साथ छात्रों में भी काफी उत्साह देखा जा रहा है. इस बीच उत्तर प्रदेश के मेरठ से एक अच्छी खबर आ रही है. काउंसिल फॉर द इंडियन स्कूल सर्टिफिकेट एग्जामिनेशन यानी सीआईएससी की तरफ से सभी स्कूलों के शिक्षकों को नई शिक्षा नीति को सही तरीका से लागू करने के लिए प्रशिक्षित किया जा रहा है. मेरठ के शिक्षकों को खेल खेल में बच्चों को कैसे सिखाया जाए इस बात की ट्रेनिंग दी जा रही है.

 

ऑनलाइन दिया जा रहा है प्रशिक्षण

सभी शिक्षकों को सीआईएससीई की ओर से ऑनलाइन प्रशिक्षण दिया जा रहा है. ऑनलाइन प्रशिक्षण के लिए सीआईएससीई दीक्षा प्लेटफार्म का इस्तेमाल कर रही है. ऑनलाइन प्रशिक्षण देने के लिए प्राइमरी स्तर पर और सेकेंडरी स्तर पर दो नए शेड्यूल जारी किए गए हैं. जारी किए गए नए शेड्यूल के अनुसार 1 नवंबर से 30 नवंबर के बीच प्रशिक्षण करवाई जा रही है. बारहवीं तक के शिक्षकों को तीन तरह के जेनेरिक कोर्स करवाए जाएंगे.

Dhanteras 2021: धनतेरस पर इस मंत्र के साथ करें तिजोरी की पूजा, कुबेर देव की कृपा से कभी खाली नहीं होगा लॉकर

शिक्षकों को जेनेरिक कोर्स करवाए जाएंगे

सीआईएससीई द्वारा डिजाइन किए गए कोर्स में बारहवीं तक के शिक्षकों को तीन तरह के जेनेरिक कोर्स करवाए जाएंगे. इन जेनेरिक कोर्सों में स्कूली गतिविधियां, खिलौनों से संबंधित पेडागोजी और स्कूल आधारित मूल्यांकन शामिल है. इसी तरह प्राइमरी स्कूल के शिक्षकों को भी ट्रेनिंग दिया जा रहा है.

UP: कालेजों के 4 हजार से अधिक एसोसिएट प्रोफेसर को दिवाली उपहार,प्रोफेसर के पद पर प्रोन्नत

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें