हाथरस कांड के विरोध में शहर में नहीं हुई सफाई, सड़क पर फैला रहा कूड़ा

Smart News Team, Last updated: 01/10/2020 04:49 PM IST
  • मेरठ शहर में वाल्मीकि समाज और सफाई कर्मचारी संघर्ष समिति के कहने पर सुबह से दोपहर तक कोई सफाई नहीं की गई और हड़ताल की गई.
मेरठ में सड़क पर फैला हुआ कूड़ा

मेरठ. हाथरस कांड को लेकर देशभर में रोष फैला हुआ. कई जगह इसके खिलाफ खुलकर विरोध हो रहा है. ऐसे में मेरठ शहर में वाल्मीकि समाज और सफाई कर्मचारी संघर्ष समिति के कहने पर सुबह से दोपहर तक कोई सफाई नहीं की गई. इससे सड़क पर काफी कूड़ा जमा हो गया और सड़क पर कूड़े से चक्का जाम हो गया. 

सिर्फ वीआईपी इलाके बचे रहे जहां अफसरों के दबाव में जेसीबी और अन्य मशीनों से कूड़े को हटवाया गया. मगर ऐसा करने के लिए सभी सफाई कर्मचारी अपनी सेवा देने नही आए बस दो चार कर्मचारी ही कूड़ा उठाते दिखे. वहीं बाकी शहर में जगह-जगह कूड़े का ढेर लगा रहा. दोपहर तक चंद सफाई कर्मचारी ही घरों से बाहर निकले और नाम मात्र की सफाई ही की गई. 

मेरठ: हाथरस कांड पर सफाई कर्मियों का आज चक्का जाम, 90 वार्डों में नहीं होगी सफाई

हालांकि नगर निगम के अधिकारियों का दावा है कि सुबह में चंद घंटों के लिए सफाई कर्मचारी हड़ताल पर या आंशिक रूप से हड़ताल पर रहे और बाद में अपने काम पर लौट गए. उनका कहना है कि बाकी शहर में सफाई और अन्य कार्य वैसे ही रहे.

राहुल गांधी-प्रियंका गांधी को हाथरस जाने से रोकने के लिए हर रूट पर पुलिस

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें