पेड़ काटने की सूचना पर पहुंचे अधिकारी, तस्कर फरार

Smart News Team, Last updated: Tue, 9th Mar 2021, 9:52 PM IST
  • हस्तिनापुर के दूधली गांव के पास द्रोपदी वन ब्लॉक में अज्ञात लकड़ी तस्करों ने पेड़ों को काटने की कोशिश की. हालांकि, इसकी सूचना वन विभाग को लग गई. जिसके बाद आरोपी मौके से फरार हो गए.
पेड़ काटने की सूचना पर पहुंचे अधिकारी, तस्कर फरार (प्रतीकात्मक तस्वीर)

मेरठ: एक तरफ जहां लगातार सरकार लोगों से पेड़ लगाने और अपने वातावरण को स्वच्छ बनाने की अपील कर रही है. वहीं, दूसरी ओर लकड़ी तस्कर अपनी करतूतों से बाज नहीं आ रहे हैं. हाल ही में सेंक्चुरी के दूधली गांव के समीप द्रोपदी वन ब्लॉक में रविवार देर रात अज्ञात तस्करों द्वारा खैर के पेड़ काटने की सूचना वन विभाग के अधिकारियों को मिली.

जिसके बाद वन विभाग के अधिकारी मौके पर पहुंच गए. हालांकि, अधिकारियों को आता देख तस्कर मौके पर ही अपनी बाइक छोड़कर फरार हो गए. बता दें, सेंक्चुरी में खड़े खैर के पेड़ों पर लकड़ी तस्करों की नजर है. पिछले एक सप्ताह में यह दूसरी घटना है. मामला क्षेत्र के गांव दूधली के समीप द्रोपदी वन ब्लॉक में खड़े वन आरक्षित क्षेत्र का है.

करंट लगने से मृत युवक की घर पहुंचते चलने लगीं सांसें, फिर अस्पताल पहुंचे परिजन

इस घटना को लेकर वन विभाग के डिप्टी रेंजर विनोद कुमार ने बताया कि रविवार देर रात कुछ तस्कर चार अज्ञात लकड़ी तस्कर ने दूधली के समीप खैर के वन में खड़े खैर के पेड़ों को काटने का प्रयास किया, लेकिन मामले की सूचना वन विभाग के अधिकारियों को लग गई. लकड़ी तस्कर मौके पर कुल्हाड़ी, आरा, अपाचे मोटरसाइकिल छोड़कर भाग गए हैंय अज्ञात लोगों के खिलाफ वन विभाग ने मुकदमा पंजीकृत करा दिया है और लकड़ी तस्करों का पता लगाया जा रहा है.

मेरठ में पुलिस ने ड्रोन और आंसू गैस से पकड़ा बाप के मर्डर का आरोपी

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें