मेरठ की हवा में छाया प्रदूषण, खतरनाक श्रेणी में पहुंची वायु गुणवत्ता

Smart News Team, Last updated: 02/12/2020 01:57 AM IST
  • मेरठ: दिसंबर का महीना शुरू होते ही हवा की गुणवत्ता भी खराब हो गई है. सोमवार को हवा की गुणवत्ता खराब श्रेणी में पहुंच गई. शहर में रविवार के मुकाबले सोमवार को एक्यूआई 356 रहा. बता दें, रविवार को शहर का एयर क्वालिटी इंडेक्स 316 दर्ज किया गया था.
फाइल फोटो

मेरठ: दिसंबर का महीना शुरू होते ही हवा की गुणवत्ता भी खराब हो गई है. सोमवार को हवा की गुणवत्ता खराब श्रेणी में पहुंच गई. शहर में रविवार के मुकाबले सोमवार को एक्यूआई 356 रहा. बता दें, रविवार को शहर का एयर क्वालिटी इंडेक्स 316 दर्ज किया गया था. वहीं, एनसीआर में सबसे ज्यादा एक्यूआई गाजियाबाद 380 दर्ज किया गया. वहीं, मेरठ के गंगानगर इलाके में एक्यूआई 312, जयभीमनगर में 380 और पल्लवपुरम में यह 316 दर्ज किया गया. बता दें, वायु प्रदूषण को रोकने के लिए त्योहारों से पहले एनसीआर में लागू हुए ग्रेडेड रिस्पांस एक्शन प्लान (ग्रैप) को अधिकारी भूल गए हैं.

मन की बात में बेजुबान की सेवा करते छा गई मेरठ पुलिस

वायु प्रदूषण को रोकने के लिए नियंत्रण बोर्ड के अलावा एमडीए, नगर निगम, पीडब्ल्यूडी, जल निगम, कृषि विभाग समेत 10 से अधिक विभागों के 34 अधिकारियों और सामाजिक संगठनों को इसकी जिम्मेदारी दी गई थी. वहीं, मौसम के साथ देने के बाद एक्यूआई लेवल गिर गया था. लेकिन प्रदूषण नियंत्रण पर कोई काम न होने और अधिकारियों की लापरवाही से फिर से एक्यूआई खतरनाक श्रेणी की तरफ बढ़ रहा है. इसको लेकर क्षेत्रीय प्रदूषण नियंत्रण अधिकारी डॉ. योगेंद्र कुमार का कहना है कि ग्रैप के तहत निगरानी की जा रही है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें