भाजपा का स्टीकर लगी कार में नाबलिग से रेप, क्लास छोड़ने के बहाने किया दरिंदगी

Smart News Team, Last updated: 18/10/2020 08:07 AM IST
  • मेरठ के टीपीनगर थाना क्षेत्र में भाजपा का स्टीकर लगी कार में एक नाबलिग छात्रा से कथित तौर पर रेप हुआ. पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है. कार को भी बरामद कर लिया गया है.
लखनऊ में कैब ड्राइवर लड़की को फोन करके रेप की धमकी देता था. पुलिस में केस दर्ज.

मेरठ. मेरठ के टीपीनगर थाना क्षेत्र में एक 11 वीं की छात्रा से रेप का मामला सामने आया है. नाबलिग छात्रा से रेप भाजपा का स्टीकर लगी कार में हुआ है. नाबलिग के साथ कथित तौर पर रेप की घटना तब हुई, जब वह कराटे सीखने के लिए जा रही थी. पुलिस ने आरोपी युवक को गिरफ्तार कर लिया है और कार को भी बरामद कर लिया है. पुलिस ने लड़की की स्थिति बिगड़ती देख उसे प्राइवेट अस्पताल में भर्ती कराया है.

पीड़िता के साथ इस हैवानियत के साथ दारिदंगी की गई थी कि वह करीब 15 घण्टे बाद कुछ बताने की हालत में आई. 16 साल की लड़की टीपीनगर थाना क्षेत्र की निवासी है. वह 11 वीं की छात्रा है. पीड़ित छात्रा एक कॉलेज में कराटे सीखने जाती है. वहां पर उसका परिचय कराटे सीखे रहे एक सीनियर खिलाड़ी 20 साल के पुलिकत सैनी से हुई. पीड़िता के परिजनों ने बताया कि शुक्रवार को शाम करीब 5 बजे छात्रा कराटे सीखने के लिए घर से निकली थी.

मेरठः धड़ल्ले से चल रही IPL में सट्टेबाजी, तहसील बाबू समेत 10 सट्टेबाज अरेस्ट

पुलिस ने बताया कि रास्ते में रेस्टोरेंट के बाहर पुलकित अपनी कार लेकर खड़ा था. पुलकित ने छात्रा को कराटे स्कूल चलने के लिए ऑफर किया. उसने छात्रा की स्कूटी वहीं खड़ी कर दी. आरोप है कि आरोपी उसे शम्भूनगर गुरुद्वारे के पास एक सुनसान गली में लेकर गया. आरोपी ने पीड़िता को जान से मारने की धमकी देकर उसका रेप कार में रेप किया. इसके बाद आरोपी उसे वहीं छोड़कर भाग गया.

मेरठ: किसानों का धरना जारी, महापंचायत का एलान-जब तक मुआवजा नहीं प्रदर्शन जारी

मेरठ के एसएसपी अजय साहनी ने बताया कि आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है. कार को भी बरामद कर लिया गया है. आरोपी ने बताया कि वह भाजपा और गौरक्षा सेवा समिति से जुड़ा हुआ है. हालांकि, एसएसपी का कहना है कि वह किसी पार्टी से जुड़ा नहीं है. उसने गलत तरीके से कार पर स्टीकर लगाया है. इसकी जांच की जा रही है.पुलिस की फोरेंसिक टीम ने कार की दोनों सीटों पर खून के सैंपल लिए. छानबीन करने के बाद कुछ फिंगर प्रिंट भी उठाए.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें