प्रदूषित नदी और उसके असली स्वरुप पर फिल्म एक अंक, मेरठ में स्क्रीनिंग

Smart News Team, Last updated: 15/12/2020 12:16 AM IST
  • एक अंक फील की स्क्रीनिंग जल शक्ति मंत्रालय के सचिव यूपी सिंह के मौजूदगी में हुई. इस फिल्म में वर्त्तमान की नदियों की स्थिति को दर्शाया गया है.
फिल्म की स्क्रीनिंग के दौरान मौजूद फिल्म के सदस्य

एक नदी जब प्रदूषित होती है तो उससे पीर समाज पर क्या असर पड़ता है और वही एक व्यक्ति यह थान ले की प्रदूषित नदी को कैसे दोबरा जीवनदायिनी बनाया जा सकता है. इस सिर्फ सुनने में अच्छा लग रहा होगा, लेकिन ऐसा किया है नीर फाउंडेशन के निदेशक रामनाकांत त्यागी ने. जिनकी कहानी को लेकर बॉलीवुड एक फ़िल्म को बनाया है. जिसका नाम एक अंक रखा गया है. इस फिल्म को काली नदी पर फिल्माया गया है.

इस फ़िल्म ये दिखाया गया हैं कि वर्तमान समय मे नदियों की क्या स्थिति है. वहीं यह भी दिखाया गया है कि कैसे एक व्यक्ति समाज का सहारा लेकर उस नदी को फिर से जीवनदायिनी के रूप में वापस लाता है. ये फ़िल्म हमे ये बताती है कि अगर मन से किसी भी क्षेत्र में सुधार लाया जाय तो सुधार हो सकता है.

प्रॉपर्टी नाम ना करने पर पत्नी ने की अधिवक्ता पति की पिटाई, SSP से मांगी सुरक्षा

बात करे फ़िल्म की तो फ़िल्म में नायक यजुवेंद्र और नायिका प्रीति ने बेहतरी अभिनय किया है. जिससे फ़िल्म की कहानी और भी दमदार हो लगने लगती है. इस फ़िल्म की पहली स्क्रीनिंग भारत सरकार के जल शक्ति मंत्रालय के सचिव यूपी सिंह के उपस्थिति में किया गया.

कोरोना टीकाकरण की पर्ची घर पर पहुंचेगी,कब-कहां और कैसे मिलेगी वैक्सीन, जानें

फ़िल्म के स्क्रीनिंग के दौरान मौजूद नीर फाउंडेशन के निदेशक रामनाकांत त्यागी ने बताया कि इंटरवल के बाद के भाग में उन्हें 18 साल पहले शुरू की गई नदी सुधार यात्रा की याद आ गई. साथ ही उन्होंने फ़िल्म के पूरे टीम की तारीफ करते हुए कहा कि जब दर्शकों को यह फ़िल्म पसन्द आएगी तो यह टीम अवश्य की आगे भी ऐसे विषयों पर फ़िल्म जरूर बनाएगी.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें