UP में रातों-रात हुआ ताबड़तोड़ काम, सुबह-सुबह ‘विकास’ देख गांव वालों का हंगामा

Atul Gupta, Last updated: Thu, 16th Dec 2021, 4:48 PM IST
  • उत्तर प्रदेश के अमरोहा जिले में रातों रात हुआ विकास सुबह सुबह धराशायी हो गया. दरअसल अमरोहा के बछरायूं इलाके में 22 लाख की लागत से रातों रात सड़क बनाई गई जो सुबह ग्रामीणों के चलने भर से टूट गई.
अमरोहा में सड़क बनाने के दौरान भ्रष्टाचार का मामला (सांकेतिक तस्वीर)

मेरठ: गांव हो या शहर चुनाव नजदीक आते ही अक्सर विकास दिखने लगता है. सड़क-नालियां पक्की होने लगती है. सालों से बंद पड़ी स्ट्रीट लाइट चकाचक जलने लगती है. टाइम पर पानी-बिजली आने लगती है. जनता भी सोचते हैं चलो कोई बात नहीं, कम से कम चुनाव के समय तो विधायक जी ने काम कराया लेकिन कैसा लगेगा जब पता चले कि चुनाव के समय में भी जनता के साथ विकास के नाम पर धोखा किया गया है. ऐसा ही कुछ यूपी के अमरोहा में हुआ जहां बछरायूं इलाके के हाशमपुर भूड़ गांव में बुधवार रात सड़क बना दी गई. सुबह गांव वाले उठे तो देखा सड़क बनी हुई है. पहले तो गांव वाले बड़ा खुश हुए कि चलो किसी को तो उनकी याद आई.

गांव वाले खुशी-खुशी सड़क देखने आ गए लेकिन ये क्या. सड़क पर तो सिर्फ बजरी ही बजरी थी. जैसे ही गांव वाले सड़क पर चलने लगे वैसे ही बजरी उखड़ उखड़कर निकलने लगी. थोड़ी जोर से सड़क पर लात मारी तो पूरा विकास उखड़कर बाहर आ गया. इतनी घटिया सड़क देख गांव वालों का गुस्सा सातवें आसमान पर पहुंच गया. ठेकेदार पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाकर गांव वालों ने जमकर प्रदर्शन किया.

गांव वालों का आरोप है कि ठेकेदार ने 270 मीटर लंबी सड़क बनाने के लिए 22 लाख रूपये लिए लेकिन फिर भी घटिया माल लगाकर सड़क बनाई जो चलने से ही उखड़ने लगी. ये पहला मामला नहीं है, अभी कुछ ही दिनों पहले बिजनौर में सड़क का शिलान्यास करने पहुंची विधायक ने जैसे ही नारियल को सड़क पर फेंका वैसे ही नारियल की जगह सड़क टूट गई. फजीहत होती देख विधायक ने वहीं समर्थकों के साथ धरना शुरू कर दिया जिसके बाद डीएम ने एक टीम भेजकर सड़क के नमूने इकट्ठा करवाए और जांच का आश्वासन दिया.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें