कोरोना की तीसरी लहर से लड़ेगा RSS, लोगों की सुविधा को गांव-गांव बनेंगे आरोग्य मित्र

Smart News Team, Last updated: Thu, 12th Aug 2021, 4:08 PM IST
  • मेरठ में आज से आरोग्य मित्र प्रशिक्षण शिविर का आयोजन किया गया जिसमें आरएसएस के प्रांत संघचालक प्रेमचंद और प्रांत कार्यवाह फूल सिंह ने बताया कि कोरोना की तीसरी लहर से लड़ने के लिए आरएसएस द्वारा मेरठ के हर गांव में अरोग्य मित्र बनाए जायेंगे. ये अरोग्य मित्र लोगों को सुविधा उपलब्ध कराने का काम करेंगे.
कोरोना की तीसरी लहर से लड़ेगी RSS, लोगों की सुविधा को गांव-गांव बनेंगे आरोग्य मित्र

मेरठ. देशभर में कोरोना महामारी का भयानक रूप देखने के बाद आशंकाएं जताई जा रही है कि कोरोना की तीसरी लहर भी देश में आ सकती है जो की फिर से देश में भयावह स्थिति पैदा कर सकती है. इस कोरोना की तीसरी लहर से लड़ने के लिए सरकार व लोग पहले से ही तैयारी में जुट गए हैं. जिसमें की कोरोना की तीसरी लहर से मुकाबले के लिए राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) ने भी तैयारी तेज कर दी है. जिसके चलते मेरठ में 45 आरोग्य मित्र तैयार कर दिए है. हर गांव स्तर पर 5 से 6 आरोग्य मित्र तैयार किए जायेंगे जो लोगों को बेहतर सुविधा उपलब्ध कराएंगे.

आरएसएस के प्रांत संघचालक प्रेमचंद और प्रांत कार्यवाह फूल सिंह ने इस योजना के बारे में भी बताया जिसमें उन्होंने कहा कि मेरठ में 45 आरोग्य मित्र तैयार किए गए हैं. जो जिला स्तर, खंड स्तर और गांव स्तर पर जाकर अपनी नई टीम तैयार करेगी. उन्होंने बताया की मेरठ के प्रांत में कुल 133 खंड, 10850 गांव और 983 मंडल आते हैं. हर गांव स्तर पर 5 से 6 आरोग्य मित्र स्वयंसेवक तैयार किए जायेंगे जो गांव के लोगों को समय पर बेहतर सुविधा उपलब्ध कराएंगे. जिसके लिए गांव में कोरोना से मुकाबले के लिए एक विशेष किट दी जा रही है.

SSC CGL Tier 1 Exam: कल से एसएससी CGL टीयर 1 की परीक्षा, एडमिट कार्ड जारी

मेरठ में आज से आरोग्य मित्र प्रशिक्षण शिविर का आयोजन किया गया. अब इसी तरह का प्रशिक्षण शिविर निचले स्तर पर भी आयोजित लिए जायेंगे. आज की शंकर आश्रम में आयोजित वार्ता में आरएसएस के प्रांत संघचालक प्रेमचंद और प्रांत कार्यवाह फूल सिंह ने इस बारे में जानकारी दी और बताया कि वैज्ञानिकों की आशंका को देखते हुए कोरोना की तीसरी लहर से मुकाबले की तैयारी की जा रही है. कम से कम नुकसान हो तो इसके लिए आरएसएस प्रांत स्तर से लेकर गांव स्तर पर तैयारी कर रहा है. जो कि कोरोना की तीसरी लहर को मात देने का काम करेगा.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें