प्रेमी से मिलने को लड़की ने कॉफी में नशीली गोलियां डालकर परिवार को पिलाई, फिर…

Smart News Team, Last updated: 25/02/2021 12:54 PM IST
मेरठ की रोशनी कॉलोनी में एक प्रेमिका ने अपने प्रेमी से मिलने के लिए परिवार को कॉपी में नशे की गोलियां मिलाकर पिला दी. प्रेमिका परिवार जन अस्पताल में भर्ती हैं. फिलहाल, उनकी हालत खतरे से बाहर है.
मेरठ में एक प्रेमिका ने अपने प्रेमी से मिलने के लिए परिवार की कॉपी में नशे की गोली मिलाकर पिला दी.

मेरठ. जिले के रोशनी कॉलोनी में प्रेमिका ने प्रेमी के साथ मिलकर अपने मामा और उनके परिवार के चार सदस्यों को कॉफी में नशे की गोलियां बनाकर फैला दी. नशे की गोलियों की वजह से प्रेमिका के रिश्तेदारों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है फिलहाल सभी खतरे से बाहर है. इस मामले में प्रेमी को मोहल्ले के लोगों ने पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया है.

जानकारी के अनुसार घटना फतेहउल्लापुर रोड पर स्थित रोशनी कॉलोनी की है जहां लड़की के मामा सलाउद्दीन की पत्नी शायमा की तबीयत कुछ दिनों से खराब थी इसीलिए सलाउद्दीन ने अपनी बहन की बेटी को 4 दिन पहले घर बुला लिया था. लड़की का ढबाईनगर के युवक सुहैल से प्रेम प्रसंग चल रहा था. लड़की को उसके प्रेमी ने एक दिन पहले नशे की गोलियां दी और कहा कि इस दवा को कॉफी या दूध में मिलाकर परिवार को पिला देने से वे सभी बेहोश हो जाएंगे. इसके बाद प्रेमिका ने अपने मामा सलाउद्दीन मामी श्यामा और भाई-बहन अकसा और आहद को कॉपी में दवा मिलाकर पिला दी. कॉफी पीने के बाद सभी की हालत बिगड़ गई. दोपहर में लड़की से मिलने के लिए जब उसका प्रेमी घर आया तो आसपास के लोगों को शक हुआ. लोगों ने सुहैल को पकड़ लिया. इसके बाद लोगों को पता चला कि घर के बाकी सदस्य बेहोशी की हालत में है और बच्चों को उल्टी हो रही है.

शिक्षिका हत्याकांड में पुलिस ने किया खुलासा पति ने किया बेहोश डॉक्टर ने की हत्या

लोगों ने पुलिस को बुलाकर सभी को अस्पताल में भर्ती कराया. पुलिस ने आरोपी को हिरासत में ले लिया. उसके बाद आरोपी प्रेमी की निशानदेही पर पुलिस ने दवा देने वाले आरोपी के यहां भी दबिश दी.फिलहाल पुलिस लड़की और उसके प्रेमी से पूछताछ कर रही है. सीओ कोतवाली अरविंद चौरसिया ने बताया कि लड़की ने परिवार के सभी सदस्यों को नशे की दवा दी थी. दंपत्ति और उनके दोनों बच्चों को अस्पताल में भर्ती करवाया गया है. इस मामले में दोनों से पूछताछ की जा रही है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें