आज से दिल्ली से मेरठ का सफर करना होगा महंगा, जानिए कितना देना होगा टोल टैक्स

Ruchi Sharma, Last updated: Thu, 17th Feb 2022, 12:16 PM IST
  • दिल्ली मेरठ एक्सप्रेस-वे पर टोल टैक्स की वसूली शनिवार सुबह आठ बजे से शुरू हो गई. दिल्ली के सराय काले खां से मेरठ तक कार से सफर करने वालों को 59.80 किमी की दूरी के लिए 140 रुपये का टोल टैक्स चुकाना होगा. टैक्स की वसूली फास्टैग के जरिये निकासी पर होगी और दो व तीन पहिया वाहन डीएमई पर नहीं चलेंगे
आज से दिल्ली से मेरठ का सफर करना होगा महंगा, बढ़ गया टोल टैक्स, पढ़ें रेट लिस्ट

मेरठ. दिल्ली से मेरठ और इसके बीच पड़ने वाले शहरों का सफर अब बाय रोड महंगा पड़ने वाला है. कार से सफर करने वालों के लिए यह जरूरी खबर है. आज सुबह 8:00 बजे से एक्सप्रेस वे पर सफर करना महंगा होगा. कार से सफर करने वाले लोगों को अब 140 का टैक्स देना होगा. यह दिल्ली के सराय काले खां से मेरठ तक 59.80 किलोमीटर दूरी के लिए है. शनिवार सुबह आठ बजे से ही सभी टोल प्लाजा में टैक्स की वसूली शुरू हो गई है.

टैक्स की वसूली फास्टैग के जरिये निकासी पर होगी और दो व तीन पहिया वाहन डीएमई पर नहीं चलेंगे. सराय काले खां से डासना के बीच करीब 27 किमी तक डीएमई पर सफर निःशुल्क रहेगा, लेकिन यह सुविधा मेरठ से सफर की शुरुआत करने वालों को नहीं मिलेगी.

 

बिहार के इन शहरों से चलेंगी झारखंड, यूपी व दूसरे राज्यों के लिए बसें, प्रस्ताव तैयार

 

मेरठ से चढ़ने वालों के लिए नहीं है फ्री

सराय काले खां से डासना तक एनएच-9 और डीएमई एक साथ हैं. अगर डासना तक डीएमई पर सफर निःशुल्क नहीं करते तो मेरठ जाने वाले सभी वाहन डासना तक एनएच-9 से आते और फिर यहां से एक्सप्रेस-वे पर प्रवेश करते. अव्यवस्था से बचने को डीएमई को भी डासना तक निश्शुल्क कर दिया. यदि कोई एनएच-9 पर चलकर डासना से डीएमई पर चढ़ता है, तो उससे पूरा टैक्स वसूला जाएगा. डीएमई पर लगे एएनपीआर (आटोमेटिक नंबर प्लेट रिकगनाइजेशन) एनएच-9 को भी कवर करते हैं. इसीलिए वाहन चालकों की चालाकी नहीं चलेगी.

दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस वे के तीन चरण

बता दें कि दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे कुल 59.77 किलोमीटर है और उसके तीन चरण हैं. पहला चरण सराय काले खां को यूपी गेट को जोड़ता है, जबकि दूसरा चरण यूपी गेट और डासना को जोड़ता है. तीसरा चरण डासना और मेरठ को जोड़ता है. डासना और हापुड़ के बीच छह-लेन 32-किमी एक्सेस-नियंत्रित संरेखण चरण 3 है, लेकिन यह डीएमई के अंतर्गत नहीं आता है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें