मेरठ : सरकार से धार्मिक स्थलों से संबंधित फैसले पर पुर्नविचार की मांग

Smart News Team, Last updated: 12/04/2021 03:11 PM IST
  • शहर के उलेमा, मस्जिदों के इमामों, सियासी नेताओं, वकीलों और शहर के बुद्धिजीवियों ने सरकार की ओर से एहतियाती गाइड लाइन के साथ धार्मिक स्थलों से संबंधित फ़ैसले पर पुनर्विचार की अपील की. इस मांग को लेकर कलेक्ट्रेट पहुंचकर उलेमा और इमाम समेत कई लोगों ने प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री, राज्यपाल के नाम ज्ञापन दिया.
देश भर में कोरोना के दूसरी लहर का कहर जारी है. (प्रतिकात्मक फोटो)

मेरठ- शहर के उलेमा, मस्जिदों के इमामों, सियासी नेताओं, वकीलों और शहर के बुद्धिजीवियों ने सरकार की ओर से एहतियाती गाइड लाइन के साथ धार्मिक स्थलों से संबंधित फ़ैसले पर पुनर्विचार की अपील की. इस मांग को लेकर कलेक्ट्रेट पहुंचकर उलेमा और इमाम समेत कई लोगों ने प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री, राज्यपाल के नाम ज्ञापन दिया.

बताते चलें कि यह फैसला रविवार देर शाम खदीजा मस्जिद करीमनगर हापुड़ रोड में मौलाना कारी शफीकुर्रहमान कासमी की अध्यक्षता में बैठक में लिया गया था. जिसमें कहा गया कि कोरोना से संबंधित सरकार की मौजूदा गाइड लाइन पर पार्क, पब्लिक ट्रांसपोर्ट, सरकारी व गैरसरकारी दफ़्तरों, दुकानों को खोलने एंव पंचायत चुनाव के आयोजन की चंद शर्तों के साथ अनुमति दी गई है. सिनेमाघर, शराबखाने और शादी समारोह भी चल रहे हैं, लेकिन मंदिर, मस्जिद, गिरजाघर और गुरुद्वारों को बंद करने को कहा गया है. एक बार में सिर्फ पांच लोगों को जाने की अनुमति देने के निर्देश दिए है. मस्जिदों में एक बार में एक जमात हो सकती है. जबकि दूसरे धार्मिक स्थलों में एक बार में पांच लोगों को प्रवेश देने के आदेश का पालन किया जा सकता है.

कोरोना संक्रमित होने से किर्गिस्तान से लौटी भारतीय जूडो टीम, मेडल न लाने का मलाल

इस दौरान शहर के लोगों ने कहा कि कोरोना जैसी ख़तरनाक बीमारी को रोकने के लिए सरकार जो एहतियाती कदम उठा रही है, वह तारीफ-ए-काबिल है. लेकिन, धार्मिक स्थलों को लेकर लिए फैसले पर केंद्र और प्रदेश सरकार फिर से विचार करें. लोगों का कहना है कि जिस तरह मार्केट, शराब खाने, सिनेमाघर, अन्य स्थान खुले हैं, इसी तरह धार्मिक स्थलों ख़ास तौर पर मस्जिदों में मास्क, सोशल डिस्टेंसिंग और स्वास्थ विभाग की गाइड लाइन का पालन करते हुए नमाज़ व तरावीह की अनुमति दी जाए. मुसलामानों से अपील है कि वह इस बीमारी को बीमारी समझें और सरकार की गाइड लाइन का ज़रूर पालन करें. अल्लाह तआला से दुआ करें कि इस ख़तरनाक बीमारी को हमसे जल्द दूर फरमाए. एक ज्ञापन कारी सभी को रहमान का सिंह के नेतृत्व में और दूसरा ज्ञापन जमीयत उलमा शहर के अध्यक्ष जन्म राशि दिन सिद्दीकी के नेतृत्व में ज्ञापन दिया.

मेरठ सर्राफा बाजार में सोने की रफ्तार बढ़ी चांदी की गति हुई धीमी, आज का मंडी भाव

मेरठ: शादी के बीच में दुल्हन बहाने से लाखों रुपए लेकर भागी, दूल्हे के उड़े होश

मेरठ में चेकिंग टीम ने पकड़ा तो युवक ने बनियान उतारकर बनाया मास्क, वीडियो वायरल

वीकेंड लॉकडाउन को लेकर सख्ती, नहीं खुलेगी कोई दुकान, जानें किस टाइम बंद होंगे बाजार

चुनाव आयोग का आदेश- पंचायत चुनाव में सख्ती से हो कोविड प्रोटोकॉल का पालन

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें