UP चुनाव: कैराना से सपा प्रत्याशी और विधायक नाहिद हसन गिरफ्तार, कोर्ट ने भेजा जेल

Jayesh Jetawat, Last updated: Sat, 15th Jan 2022, 4:27 PM IST
  • उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 से पहले कैराना से सपा गठबंधन के उम्मीदवार नाहिद हसन को यूपी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. अदालत ने उन्हें 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया है. नाहिद हसन कैराना से मौजूदा विधायक हैं.
पुलिस गिरफ्तार में कैराना से सपा प्रत्याशी और विधायक नाहिद हसन

मेरठ: उत्तर प्रदेश के कैराना से समाजवादी पार्टी के विधायक नाहिद हसन को पुलिस ने शनिवार को गिरफ्तार कर लिया. नाहिद हसन आगामी विधानसभा चुनाव के लिए कैराना से सपा गठबंधन के प्रत्याशी हैं. कैराना कोतवाली थाने में उनके खिलाफ गैंगस्टर एक्ट के तहत केस दर्ज है, जिसमें वे फरार चल रहे थे. कोर्ट ने नाहिद हसन को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है. वहीं नाहिद हसन का दावा है कि पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार नहीं किया, बल्कि उन्होंने खुद थाने में जाकर सरेंडर किया है.

जानकारी के मुताबिक पिछले कुछ सालों से नाहिद हसन और जिला प्रशासन के बीच टकराव च रहा है. कैराना कोतवाली समेत कई थानों में उनके खिलाफ करीब दो दर्जन मुकदमे दर्ज हैं. सीओ और एसडीएम से बदतमीजी के आरोप में दर्ज मुकदमे में तो उनकी फरारी की मुनादी तक कराई गई थी.

आजाद समाज पार्टी के चीफ चंद्रशेखर का पुलिस पर आरोप, प्रेस कांफ्रेंस रोकने का किया गया प्रयास

लगभग 11 महीने पहले कैराना कोतवाली में विधायक नाहिद हसन, उनकी मां एवं पूर्व सांसद तबस्सुम हसन समेत 40 लोगों के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया गया था, तभी से नाहिद और उनकी मां तबस्सुम फरार चल रहे हैं. 

शनिवार को नाहिद हसन को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया. अदालत ने उन्हें 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है. पुलिस का कहना है कि नाहिद हसन नामांकन पत्र दाखिल करने शामली जा रहे थे, तभी उन्हें अरेस्ट कर लिया गया.

BJP List: योगी आदित्यनाथ ना अयोध्या, ना मथुरा, गोरखपुर शहर सीट से चुनाव लड़ेंगे

दूसरी ओर, विधायक नाहिद हसन का कहना है कि उन्होंने खुद पुलिस थाने में जाकर सरेंडर किया है. नाहिद को सपा गठबंधन ने हाल ही में कैराना से उम्मीदवार बनाया. एक दिन पहले उन्होंने अपने प्रतिनिधि के जरिए पर्चा भी दाखिल कर लिया. पुलिस ने उनके सरेंडर के दावे से इनकार कर दिया है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें