यूपी एथलेटिक एसो. की मंडलायुक्त को चिट्ठी, ‘नहीं बन सकता सिथेटिक एथलेटिक ट्रैक’

Smart News Team, Last updated: 03/03/2021 04:59 PM IST
  • उत्तर प्रदेश एथलेटिक एसोसिएशन की ओर से मंडलायुक्त को मानक के अनुरूप सिथेटिक एथलेटिक ट्रैक नहीं बनाए जा सकने की बात पत्र लिखकर की गई है. एथलेटिक संघ ने ये पत्र स्मार्ट सिटी योजना के तहत एथलेटिक ट्रैक बनाने की तैयारियों को लेकर लिखा है.
यूपी एथलेटिक एसोसिएशन की चिट्ठी

मेरठ: उत्तर प्रदेश एथलेटिक एसोसिएशन की ओर से मंडलायुक्त को मानक के अनुरूप सिथेटिक एथलेटिक ट्रैक नहीं बनाए जा सकने की बात पत्र लिखकर की गई है. एथलेटिक संघ के अनुसार स्टेडियम में हाकी एस्ट्रोटर्फ के बेहद पास सिथेटिक एथलेटिक ट्रैक सुरक्षा के लिहाज से सही नहीं होगा. एथलेटिक संघ ने ये पत्र स्मार्ट सिटी योजना के तहत सिथेटिक एथलेटिक ट्रैक बनाने की तैयारियों को देखते हुए लिखा है.

उत्तर प्रदेश एथलेटिक एसोसिएशन ने पत्र लिखकर जानकारी दी कि मेरठ के कैलाश प्रकाश स्पो‌र्ट्स स्टेडियम में राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय मानकों के अनुरूप सिथेटिक एथलेटिक ट्रैक नहीं बनाया जा सकता है. बिना मानक ट्रैक के यहां कोई भी प्रदेश या राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिता नहीं हो सकती. करोड़ों की लागत से बनने वाला सिथेटिक एथलेटिक ट्रैक केवल अभ्यास और सुबह सैर-सपाटे के लिए ही रह जाएगा.

मेरठ: युवाओं से कांग्रेसियों ने किया नौकरी संवाद, भरवाए बेरोजगारी फॉर्म

एथलेटिक संघ के मुताबिक कम जगह में किसी तरह अगर ट्रैक बन भी गया तो जंप और थ्रो इवेंट्स के लिए जगह पर्याप्त नहीं होगी. इसके साथ ही केवल ट्रैक से ही पूरा ग्राउंड भर जाएगा और खिलाड़ियों के लिए अनिवार्य वार्मअप स्पेस भी नहीं मिलेगा. इसके बिना प्रदेश स्तरीय प्रतियोगिता भी नहीं हो सकेगी.

मेरठ: आठ माह से लापता युवती पति के साथ पहुंची थाने, मच गया हंगामा

एथलेटिक संघ ने मेरठ में सिथेटिक एथलेटिक ट्रैक को किसी अन्य ग्राउंड पर पर्याप्त जगह में बनाने का सुझाव दिया है. एथलेटिक संघ ने इसलिए भी ये सुझाव दिया है ताकि करोड़ों रुपये के सरकारी खर्च से तैयार होने वाले इस ट्रैक का अधिकतम सदुपयोग हो सके.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें