यूपी चुनाव : आचार संहिता उल्लंघन मामले में सपा अध्यक्ष अखिलेश व RLD प्रमुख जयंत पर FIR

Mithilesh Kumar Patel, Last updated: Fri, 4th Feb 2022, 6:38 PM IST
  • सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव व रालोद प्रमुख जयंत चौधरी के खिलाफ दादरी थाने में चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन करने के मामले में FIR दर्ज किया गया है. दोनों पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष दादरी सीट से चुनाव मैदान में बतौर उम्मीदवार उतरे SP-RLD गठबंधन के प्रत्याशी राजकुमार भाटी के लिए प्रचार करने गए थे.
आचार संहिता उल्लंघन को लेकर अखिलेश-जयंत पर एफआईआर

मेरठ. समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव के खिलाफ ग्रेटर नोएडा के दादरी थाने में चुनाव आचार संहिता उल्लंघन में एफआईआर दर्ज की गई है. एफआईआर में सपा प्रमुख अखिलेश के साथ राष्ट्रीय लोकदल के अध्यक्ष जयंत चौधरी का नाम भी शामिल है. दरअसल, गुरुवार को दादरी इलाके में अखिलेश और जयंत अपने गठबंधन के पार्टी प्रत्याशी के लिए चुनाव प्रचार रथयात्रा के साथ पहुंचे थे. इस दौरान उनके काफिले के साथ कार्यकर्ताओं की भारी भीड़ उमड़ पड़ी. बताया जा रहा है कि रथयात्रा के दौरान बड़े पैमाने पर पटाखे भी फोड़े गए थे.

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव व रालोद प्रमुख जयंत चौधरी के खिलाफ ग्रेटर नोएडा यानी गौतमबुद्धनगर के दादरी थाने में चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन करने के मामले में FIR दर्ज किया गया है. दोनों पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष दादरी सीट से चुनाव मैदान में बतौर उम्मीदवार उतरे SP-RLD गठबंधन के प्रत्याशी राजकुमार भाटी के लिए प्रचार करने गए थे.

यूपी में लालू यादव के समधी जितेंद्र यादव और दामाद राहुल पर केस, जानिए क्यों

अफसरों ने बताया कि अखिलेश और जयंत का काफिला ग्रेटर नोएडा के टीएनटी रात करीब 10 बजे पहुंचा था. इस दौरान भारी संख्या में समर्थको का हुजूम उमड़ पड़ा. भीड़ के कारण कोविड नियमों का उल्लंघन किया गया. वहीं दूसरी तरफ इलाके यहां रात्रिकालीन कोरोना कर्फ्यू भी लागू है. इसलिए एफआईआर में उन पर धारा 144 के उल्लंघन का आरोप भी लगाया गया है. अखिलेश-जयंत के साथ दादरी सीट से सपा-रालोद गठबंधन प्रत्याशी राजकुमार भाटी के ऊपर नामजद और करीब 300 -400 अज्ञात लोगों को एफआईआर में शामिल किया गया है.

बताया जा रहा है कि सपा-रालोद गठबंधन की तरफ से चुनाव प्रचार के लिए जिला प्रशासन से रात 8 बजे तक का ही परमिशन मिला था. डोर टू डोर चुनाव प्रचार के लिए जिला प्रशासन का तरफ से इजाजत ली गई थी लेकिन रात में जब काफिले का आगमन हुआ तो भारी संख्या में भीड़ उमड़ पड़ी. अखिलेश और जयंत के रथयात्रा के दौरान रात में इलाके में भारी संख्या में समर्थकों के भीड़ का जमावड़ा किया गया.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें