किसान नेताओं नजरबंदी से मेरठ किसान नहीं पहुंचे दिल्ली, हापुड़ वालों का कूच सफल

Smart News Team, Last updated: Thu, 7th Jan 2021, 3:39 PM IST
  • ट्रैक्टर रैली से पहले किसान नेताओं की नजरबंदी के चलते मेरठ के किसान रैली में शामिल नहीं हो पाए लेकिन हापुड़ के किसानों ने दिल्ली में सफलतापूर्वक कूच कर दिया. नजरबंद होने के कारण मेरठ केे किसान अपने ट्रैक्टर ट्राली नहीं निकाल पाए जिसके कारण वे रैली में शामिल नहीं हो पाए. हापुड़ से करीब सो की संख्या में किसान ट्रैक्टर लेकर शामिल हुए.
किसान नेताओं की नजरबंदी के चलते मेरठ के किसान रैली में शामिल नहीं हो पाए.(फाइल फोटो)

मेरठ. दिल्ली ट्रैक्टर रैली से पहले किसान नेताओं की नजरबंदी के चलते मेरठ के किसान रैली में शामिल नहीं हो पाए लेकिन हापुड़ के किसानों ने दिल्ली में सफलतापूर्वक कूच कर दिया. नजरबंद होने के कारण मेरठ केे किसान अपने ट्रैक्टर ट्राली नहीं निकाल पाए जिसके कारण वे रैली में शामिल नहीं हो पाए. हापुड़ से करीब सो की संख्या में किसान ट्रैक्टर लेकर शामिल हुए. 

किसानों ने संयुक्त मोर्चा के आह्वान पर ट्रैक्टर मार्च निकालेने की तैयारी की थी लेकिन यूपी पुलिस ने गुरुवार को भारतीय किसान आंदोलन के मंडल अध्यक्ष कुलदीप त्यागी को पुलिस ने गढ़ रोड को घर में नजरबंद कर दिया. किसानों की योजना थी कि वह गढ़ रोड से शुरू होकर तेजगढ़ी चौपला, सूरजकुंड, पुलिस लाइन होते हुए कमिश्नरी पहुंचेगे. साथ ही खून से पत्र लिखने के लिए भी तैयारियां की जा रही थी. पुलिस को इस तरह के आयोजन से पहले रोक लिया गया. पुलिस ने उन्हें नौचंदी के घर में उन्हें नजरबंद कर दिया. . 

मेरठ : सलाखों के पीछे बन गए रिश्ते, बुजुर्ग कैदियों की देखभाल कर रहे युवा कैदी

पुलिस रात से ही नेता के घर पर मौजूद है. वहीं हरेंद्र सिंह भी ट्रैक्टर लेकर अभी दिल्ली नहीं निकल पाए हैं. इसके पीछे की वजह खराब मौसम वजह बताई है. इनके कुछ अन्य किसान नेता भी है जिन्हें पुलिस ने नजरबंद किया हुआ है. इसके अलावा हापुड़ के गांवों से किसान ट्रैक्टर लेकर दिल्ली के लिए कूच कर दिया है जिसके कारण जिला प्रशासन अलर्ट है. 

मेरठ: बदमाश बदन सिंह बद्दो का बंगला तोड़ने की कार्रवाई अधर में अटकी, जानें वजह

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें