दिवाली पर बच्चियों के साथ दीये बेचकर मेरठ पुलिस ने कायम की मिसाल

Smart News Team, Last updated: Sun, 15th Nov 2020, 9:14 AM IST
  • मेरठ पुलिस के एसएचओ ने दिवाली पर बच्चियों के साथ दीये बेचे जिसके बाद पूरे शहर में उनकी चर्चा होने लगी. दुकान के सारे दीपक खत्म होने के बाद थानेदार ने दोनों बच्चियों को मिठाई और गिफ्ट्स भी दिए.
मेरठ पुलिस के एसएचओ ने दिवाली पर दो बच्चियों को दीं खुशियां

मेरठ. पिछले दिनों ही पुलिस ने एक विक्रेता को बेवजह घसीटते हुए हिरासत में ले लिया था. जिसपर उसकी बच्चियों ने अपने पिता को छोड़ने की पुलिस से अनेक बार गुहार लगाई थी लेकिन किसी ने उसकी एक न सुनी थी. ऐसे में यूप पुलिस का एक वो चेहरा दिखा था जो सबको हैरान कर देता है. लेकिन, इससे इतर मेरठ शहर की पुलिस का अलग ही रूप देखने को मिला. जहां दिवाली की संध्या पर गश्ती पर निकले एसएचओ ने बड़ा दिल दिखाया और इस बात को पूरा कर यूपी पुलिस की छाती गर्व से चौड़ी कर दी.

बात है नगर के टीपी नगर की जब एसएचओ दीवाली के मद्देनजर बाजार की सुरक्षा व्यवस्था चेक करने निकले थे. उनके साथ पूरा अमला भी था. कुछ देर बाद फोर्स सहित अधिकारी किशनपुरा क्षेत्र में पहुंचे. जहां उन्हें दो बच्चियां दिए बेचते हुए दिखी, लेकिन वो जैसे ही उनके पास पहुंचे तो दोनों ही घबराकर रोने लगी.  

बेच रहा था पटाखा, पुलिस ने अरेस्ट किया, CM योगी ने दुकानदार की दीपावली मनाई

बच्चियों को लगा कि इतनी सारी पुलिस उनकी दुकान हटवाने आई है. जिसके बाद पहुंचे थानेदार ने बच्चियों से पूछा तो दोनों ने भावुक होते हुए जवाब दिया और पूरी बात बताई. फिर दोनों ने कहा, अंकल सुबह से कुछ भी सामान नहीं बिका, हम त्योहार कैसे मनाएंगे? 

दिवाली के लिए पटाखे तैयार कर रहे थे बच्चे, हुआ धमाका, हालत गंभीर

ऐसा सुनता ही मानों अधिकारी का दिल पिघला गया. उन्होंने दोनों से दोगुनी कीमत पर आधे दिए खरीद लिए. इसके बाद बच्चियों के साथ ही थानेदार दीए बेचते दिखे और लोगों से खरादने की अपील की. इस दृश्य को देखकर ऐसा लगा कि दीए वो खुद ही बेच रहे हों. जब लोगों ने देखा तो उनके दीए को हाथों-हाथ लेते ही मिनटों में सारे खरीद लिए. इसके अलावा माल बिकने के बाद थानेदार ने दोनों बच्चियों को पर्व पर तोहफा और मिठाई भी भेंट की. जिसके बाद दोनों खुशी-खुशी अपने घर को लौट गईं. 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें