मेरठ: सुबह-सुबह विभाग की छापेमारी, 9 लोगों के घर बिजली चोरी पकड़ी, हुआ हंगामा

Smart News Team, Last updated: 15/09/2020 11:23 AM IST
  • उत्तर प्रदेश पावर कॉरपोरेशन लिमिटेड ने मेरठ में सुबह-सुबह विभाग की टीम भेजकर छापेमारी की. इस दौरान 9 लोगों के घर बिजली चोरी पकड़ी गई. इसके बाद लोगों ने जमकर हंगामा किया. 
मेरठ: सुबह-सुबह विभाग की छापेमारी, 9 लोगों के घर बिजली चोरी पकड़ी, हुआ हंगामा

छापेमेरठ. मेरठ में विद्युत नगरीय वितरण खंड -2 के तहत छापेमारी की गई. कई दिनों से इसके तहत कार्रवाई की जा रही है. विभाग ने हाई लाइन लॉस फीडरों पर विद्युत मॉर्निंग चेकिंग अभियान चलाया. मंगलवार सुबह विभाग ने छापेमारी की जिसमें तीन घंटे तक चेकिंग चली. विभाग की टीम ने इस छापेमारी में नौ लोगों के घर बिजली चोरी पकड़ी. वहीं कार्रवाई करते हुए विभाग की टीम ने बिजली बिल जमा नहीं करने वाले उपभोक्ताओं की बिजली भी काट दी.

स्थानिय निवासियों ने चेकिंग रोकने की कोशिश में जमकर हंगामा भी किया. अधिशासी अभियंता द्वितीय सोनू रस्तोगी ने बताया कि रात में बिजली चोरी रोकने के लिए चेकिंग की गई. इसके लिए तीन टीमों का गठन किया और उन्हें छापेमारी के लिए तड़के ही भेजा गया. टीमों में अवर अभियंता परविंदर कुमार, सत्यप्रकाश को शामिल किया गया. इन टीमों ने चितेरा जवाहरनगर, विकास एन्क्लेव, भूसा मंडी में सघन चेकिंग अभियान चलाया. वहां के निवासियों ने चेकिंग का विरोध किया.

मेरठ: स्मार्ट मीटर लगाने के बावजूद हो रही है बिजली चोरी, पकड़ने गई टीम को घेरा

छापेमारी के दौरान चेकिंग करती विभाग की टीम.

मेरठ के बाजारों में सुरक्षा बढ़ाने के लिए लगेंगे CCTV कैमरे

लोगों के विरोध की संभावना को देखते हुए पहले ही चेकिंग टीमों के साथ पुलिस और विजीलेंस भी भेजी गई थी. इस कारण लोगों का विरोध ज्यादा देर नहीं ठहरा. चेकिंग अभियान में नौ लोगों के यहां बिजली चोरी पकड़ी गई. इनमें से कई मीटरों में गड़बड़ी और कई में सीधे कटिया डालकर बिजली चोरी के मामले पकड़े गए. अधिशासी अभियंता सोनू रस्तोगी ने बताया कि बिजली चोरी के सभी नौ मामलों में रिपोर्ट दर्ज कराई जा रही है. बिजली चोरी रोकने और लाइन लॉस कम करने का अभियान जारी रहेगा.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें