मेरठ: विश्व के हिंदू समाज को संगठित करना ही विश्व हिंदू परिषद का उद्देश्य

Smart News Team, Last updated: 11/08/2020 10:27 PM IST
  • मेरठ में विश्व हिंदू परिषद के स्थापना दिवस पर कार्यक्रम आयोजित. इसमें संगठन के उद्देश्यों पर हुई चर्चा. हिंदू धर्म के पांच आधार माता- गौ माता, धरती-माता, धर्मग्रंथ व मंदिरों की रक्षा करना विहिप का कर्तव्य
विश्व हिंदू परिषद 

मेरठ। मेरठ में सोमवार को श्री कृष्ण मंदिर में विश्व हिंदू परिषद के स्थापना दिवस पर कार्यक्रम आयोजित किया गया. इस दौरान विश्व हिंदू परिषद का स्थापना दिवस धूमधाम से सोशल डिस्टेंसिंग के साथ मनाया गया. कार्यक्रम में मौजूद संगठन के विभिन्न पदाधिकारियों द्वारा विश्व हिंदू परिषद के स्थापना व उद्देश्यों पर विस्तृत प्रकाश डाला गया.

स्थापना दिवस पर आयोजित कार्यक्रम में संयुक्त महामंत्री वाई. राघवल्लू ने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि विश्व हिंदू परिषद की स्थापना मुंबई में जन्माष्टमी के दिन हुई थी. तभी से विहिप आंदोलनात्मक व रचनात्मक कार्य कर रहा है. हिंदू धर्म के पांच आधार है. इनमें माता, गौ-माता, धरती माता, धर्म ग्रंथ व मठ मंदिर शामिल हैं. इनकी रक्षा का कर्तव्य देश के हर हिंदू परिवार का है.

विहिप के सह प्रांत मंत्री राजकुमार डूंगर ने कहा कि परिषद की स्थापना का उद्देश्य देश ही नहीं अपितु पूरे विश्व में हिंदू समाज के मान बिंदुओं की रक्षा करना व हिंदू समाज को संगठित करना था.

कार्यक्रम का शुभारंभ भारत माता व भगवान श्रीराम के चित्र के सम्मुख दीप प्रज्ज्वलित कर किया गया. कार्यक्रम की अध्यक्षता ओमप्रकाश पपनेजा व संचालन विहिप के जिला मंत्री सौरभ शर्मा ने किया.

इस दौरान कार्यक्रम में राजकुमार डूंगर, डा.चंद्र मोहन शर्मा, रविंदर, मुकेश ठाकुर, महेश आर्य, योगेंद्र जाटव, उज्ज्वल रस्तोगी, हरविंदर छाबड़ा, वैभव सोनी, राहुल, अमित, मनीष व कार्तिक आदि मौजूद रहे.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें