मेरठ की महिलाएं स्वतंत्रता दिवस पर देंगी पाच लाख तिरंगे झंडे

Smart News Team, Last updated: 14/08/2020 11:41 PM IST
  • मेरठ. बेरोजगारी से बचने के लिए मेरठ शहर की महिलाओं ने एक नया कार्य प्रारंभ कर दिया गया है. जिसमें उन्होंने 15 अगस्त के दिन पांच लाख झंडों को जिला प्रशासन को देने की सहमति पर हामी भर दी है. इस संबंध में संगठन की महिलाओं का कहना है कि वह लोग काफी दिनों से बेरोजगारी की समस्या से जूझ रही थी. 
झंडे बनाती महिलाएं

मेरठ. उद्यम फाउंडेशन के बैनर तले जनपद की महिलाओं ने एक प्रशिक्षण प्राप्त किया. जिसमें महिलाओं और युवतियों को एक अनोखा प्रशिक्षण दिया गया. जिसमें महिलाओं को सिलाई, कढ़ाई, बुनाई, पेंटिंग के प्रशिक्षण के अलावा तिरंगे झंडे के निर्माण का भी प्रशिक्षण दिया गया. बताया जाता है कि कोरोना संक्रमण के चलते कई ऐसे सेंटर बंद हो गए थे जिससे कि स्वयंसेवी संस्था की घरों में रोशनी होती थी. मगर उसके बाद उद्यम फाउंडेशन द्वारा महिलाओं को रोजगार उपलब्ध कराए जाने के लिए तिरंगे झंडे, तिरंगा रंग की टोपियों और अन्य सामग्री तैयार किए जाने के लिए प्रशिक्षण दिया गया. इस दौरान महिलाओं ने अभूतपूर्व प्रदर्शन करते हुए 15 अगस्त के दिन जिला प्रशासन सहित बाजार में पांच लाख झंडों सहित अन्य सामग्री को उपलब्ध कराए जाने की बात कही है.

उद्यम फाउंडेशन के अध्यक्ष दुर्गेश और सचिव कौशल ने जानकारी देते हुए बताया महिलाओं एवं युवतियों द्वारा तैयार की गई करीब 5 लाल झंडे, टोपी, बैंड मार्केट में उपलब्ध करा दिए गए हैं. जिनकी बिक्री जोरों पर हो रही है. वहीं प्रशिक्षक चांदनी बिष्ट, प्रीति पटेल, आशा ने जानकारी देते हुए बताया कि महिलाओं को इस कार्य किए जाने में काफी आनंद प्राप्त हुआ और वह लोग अपने अनुसार ही इन सभी सामग्रियों को का निर्माण करने में तत्परता से लगी हुई थी.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें