शादी के दो दिन बाद ही मेरठ की बेटी बनी आइएएस सिविल सेवा में हासिल की 159वीं रेंक

Smart News Team, Last updated: 05/08/2020 03:08 PM IST
  • मेरठ के शास्त्रीनगर की रहने वाली तान्या सिंघल ने अखिल भारतीय सिविल सेवा परीक्षा में 159 वीं रैंक हासिल की हैं। तान्या सिंघल इससे पहले भी दो बार प्रयास कर चुकी थी लेकिन इंटरव्यू तक ही पहुँच पाई। वही इस बार उनकी खुशी दोगुनी हो गई हैं क्योंकि शादी के महज दो दिन के बाद उन्होंने ये परीक्षा पास कर ली हैं।
तान्या सिंघल ने अखिल भारतीय सिविल सेवा परीक्षा में 159 वीं रैंक हासिल की

मेरठ। शास्त्रीनगर कॉलोनी की रहने वाली तान्या सिंघल ने अखिल भारतीय सिविल सेवा परीक्षा में 159 वीं की रैंक पाकर मेरठ का नाम रोशन किया हैं। इससे पहले भी तान्या दो बार प्रयास कर चुकी थी और इंटरव्यू तक पहुँची थी। ये उनका तीसरा प्रयास था जिसमे उन्होंने सफलता हासिल की। तान्या सिंघल की इसी साल शादी हुई हैं ,और शादी के दो दिन बाद ही वो आइएएस के इंटरव्यू में पास हो गई।

तान्या मल्टीनेशनल कंपनी की जॉब से नही हुई संतुष्ट तो शुरू की आइएस की तैयारी

दरअसल शास्त्रीनगर के एल ब्लॉक की रहने वाली तान्या सिंघल ने अपनी दसवीं और बारहवीं क्लास की पढ़ाई डीएवी स्कूल की थी। तान्या अपने स्कूल को होनहार छात्रा थी और टॉप रह चुकी हैं। जिसके बाद उन्होंने रुड़की के आइआइटी कॉलिज से बीटेक किया। जिसके बाद गुरग्राम कि एक मल्टीनेशनल कंपनी में जॉब करने लगी। लेकिन इससे वो सन्तुष्ट नही थी। और इसके बाद तान्या ने दिल्ली में आइएएस की कोचिंग शुरू कर दी।

इसी साल तान्या की हुई शादी और शादी के दो दिन आ गई कॉल

आपको बता दे तान्या सिंघल की शादी इसी वर्ष 26 फरवरी को मुंबई के शशांक रावत से हुई हैं। और शादी के 2 दिन ही उसके पास इंटरव्यू के लिए कॉल आ गया। जिसके बाद उसकी खुशी दोगुनी हो गई। इससे पहले भी तान्या दो बार प्रयास कर चुकी थी और इंटरव्यू तक पहुँची थी लेकिन सफ़लता नही मिल पाई थी। लेकिन इस बार आत्मविश्वास के साथ तान्या ने मुकाम हासिल कर आइएएस का इंटरव्यू पास कर लिया।

तान्या के पिता बिजनेसमैन तो बहन हैं इंजीनियर

वही तान्या सिंघल एक शिक्षित परिवार से ताल्लुक रखती हैं। तान्या के पिता मुकेश सिंघल एक बिजनेसमैन हैं ,जबकिं उनकी मम्मी रीना सिंघल हाउस वाइफ हैं। इतना ही नही उनका छोटा भाई दिल्ली यूनिवर्सिटी से बीकॉम ओनर्स कर रहा हैं, जबकिं छोटी बहन डीआरडीओ में सिस्टम इंजीनियर हैं।

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें