मेरठ बीईओ की परीक्षा पर कोरोना का साया, 56 प्रतिशत अभ्यर्थी रहे अनुपस्थित

Smart News Team, Last updated: 17/08/2020 12:46 PM IST
  • मेरठ.लोक सेवा आयोग की ओर से मेरठ में खंड शिक्षा अधिकारियों की भर्ती परीक्षा रविवार को संपन्न हुई. कोरोना में प्रकोप के चलते मात्र 44 प्रतिशत छात्रों ने ही भागीदारी की. इसके अलावा 56 फ़ीसदी छात्र इस परीक्षा में सम्मिलित नहीं हुए.
प्रतीकात्मक तस्वीर 

मेरठ. लोक सेवा आयोग की रविवार को 18 जिलों में परीक्षा आयोजित होनी थी. जिसमें 18 जिलों की 1127 केंद्रों पर खंड शिक्षा अधिकारी भर्ती 2019 की प्रवेश प्रारंभिक परीक्षा का आयोजन किया गया था. कोरोना संक्रमण के चलते अभ्यर्थी परीक्षा में सम्मिलित नहीं हो सके. सिर्फ 44 फीसदी अभ्यर्थी ही इस परीक्षा में शामिल हुए.

आयोग के सचिव ने जानकारी देते हुए बताया यह परीक्षा 12 से दो तक आयोजित की गई. इसके लिए 5 लाख 28 हज़ार 314 परीक्षार्थी पंजीकृत थे. जिसमें से दो लाख 33 हज़ार 393 परीक्षार्थी परीक्षा देने के लिए शामिल हुए.

उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग के सचिव जगदीश ने जानकारी देते हुए बताया कि यह परीक्षा खंड शिक्षा अधिकारियों के लिए थी. प्रयागराज में सर्वाधिक इसके लिए 106 केंद्र बनाए गए थे. जिनमें 48 हज़ार 900 अभ्यर्थी पंजीकृत थे. इनमें 25 हज़ार 473 छात्र उपस्थित हुए.

उन्होंने बताया कि खंड शिक्षा अधिकारी के 309 पदों पर वर्तमान में भर्ती होनी थी. जिसमें परीक्षा प्रयागराज, आगरा, आजमगढ़, बरेली सहित करीब दो दर्जन से अधिक स्थानों पर आयोजित की गई थी. मगर लगातार बढ़ते संक्रमण के कारण कई परीक्षा केंद्र कंटेनमेंट जोन में बनाए गए थे. कुछ केंद्रों में एक-एक कमरे में आधे से कम अभ्यर्थियों ने परीक्षा दी.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें