Diwali 2021: इस बार दिवाली में बन रहा ये शुभ योग, एक ही राशि में होंगे चार ग्रह, लक्ष्मी मां की रहेगी विशेष कृपा

Pallawi Kumari, Last updated: Sun, 3rd Oct 2021, 12:33 PM IST
  • वैसे तो हर साल ही दिवाली धूमधाम के साथ मनाई जाती है. लेकिन इस बार दिलावी और भी खास होने वाली है. क्योंकि इस साल दीपावली पर एक ही राशि में चार ग्रहों के होने से शुभ संयोग बन रहे हैं. इस बार दिवाली 4 नंवबर 2021 को मनाई जाएगी.
एक ही राशि में होंगे चार ग्रह के होने से दीवाली में बन रहा ये शुभ संयोग.

दीपोत्सव और प्रकाश का त्योहार दिवाली की रोनक अपने साथ खुशियां और आशीर्वाद लेकर आती है. दिवाली की जगमगाहत से चारों ओर खुशहाली ही नजर आती है. लक्ष्मी गणेश की पूजा से लेकर मिठाई और उपहार लोगों के बीच बांटे जाते हैं. इस बार दिवाली का त्योहार गुरुवार 4 नवबंर को मनाया जाएगा.वैसे तो दिवानी का पर्व हर साल ही खास होता है. लेकिन इस बार दिलावी पर ऐसे संयोग बन रहे हैं, जिससे भक्तों पर लक्ष्मी मां की विशेष कृपा बनी रहेगी.

हर साल कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष की अमावस्या की तिथि को दिवाली मनाई जाती है. इस बार हिंदू कैलेंडर के मुताबिक दिवाली 4 नवंबर 2021 गुरुवार के दिन मनाई जाएगी. दिवाली के दिन माता लक्ष्मी और भगवान गणेश की विधि-विधान के साथ खास पूजा की जाती है. इस दिन कुबेर भगवान की भी पूजा की जाती है. वैसे तो हर साल ही माता लक्ष्मी अपने भक्तों पर आशीर्वाद की बरसात करती है उन्हें सुख समृद्धि का आशीर्वाद देती है. लेकिन इस इस बार दिवाली पर एक साथ चार ग्रहों की युक्ति बन रही है, जो शुभता का प्रतीक माना जा रहा है.

Diwali 2021: दिवाली पर करें मां लक्ष्मी और गणेश जी की आरती

इस कारण बन रहा शुभ संयोग

दिवाली पर तुला राशि में सूर्य, बुध, मंगल, औऱ चंद्रमा मौजूद होने से एक साथ चार ग्रहों की युक्ति बन रही है. सूर्य को ग्रहो का राजा माना जाता है, मंगल ग्रहों का सेनापति होता है शुक्र को धन धान्य और सुख सुविधाओं के साथ अच्छा लाइफस्टाइल तो बुध को ग्रहों का राजकुमार माना जाता है. ऐसे में दिवाली पर ऐसा संयोह शुभता का प्रतीक माना जा रहा है.

दिवाली पूजा का शुभ मुहूर्त

दिवाली: 4 नवंबर, 2021, गुरुवार

अमावस्या तिथि प्रारम्भ: 04 नवंबर 2021 को प्रात: 06:03 बजे से.

अमावस्या तिथि समाप्त: 05 नवंबर 2021 को प्रात: 02:44 बजे तक.

दिवाली लक्ष्मी पूजा मुहूर्त: शाम 6:09 मिनट से रात्रि 8:20 मिनट

पूजा के शुभ समय की अवधि: 1 घंटे 55 मिनट

गोवर्धन पूजा 2021: गोवर्धन पूजा में इन मंत्रों का करें जाप, प्रसन्न होंगे भगवान

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें