मेरठ में लॉक डाउन के चलते आयी मंदी के कारण प्रोपर्टी डीलर ने किया सुसाइड

Smart News Team, Last updated: 04/10/2020 12:18 PM IST
  • कर्ज से परेशान होकर यह कदम उठाया है. पुलिस की जांच में सामने आया कि शेयर और प्रापर्टी में गिरावट आने के कारण उनकी रकम फंस गई थी. इसलिए लोगों का रुपया नहीं लौटा पा रहे थे.
प्रतीकात्मक तस्वीर

मेरठ । उत्तर प्रदेश के जनपद मेरठ में कोरोना महामारी के चलते व लॉक डाउन के कारण एक प्रॉपर्टी डीलर ने प्रॉपर्टी में गिरावट के चलते खुद को मौत के गले लगा लिया. यह दर्दनाक वारदात मेरठ के एक नामी गिरामी होटल में हुई है. जिसके बाद से ही मृतक प्रॉपर्टी डीलर के परिवार में कोहराम मचा हुआ है.

आपको बता दें कि शहर के बागपत रोड स्थित होटल सिग्नेचर में लाइसेंसी पिस्टल से गोली मारकर आत्महत्या करने वाले नोएडा के प्रापर्टी डीलर आशीष बंसल ने कर्ज से परेशान होकर यह कदम उठाया है. पुलिस की जांच में सामने आया कि शेयर और प्रापर्टी में गिरावट आने के कारण उनकी रकम फंस गई थी. इसलिए लोगों का रुपया नहीं लौटा पा रहे थे. आशीष ने शंभू नगर स्थित अपना मकान भी बेच दिया था. कई होटलों से अपनी हिस्सेदारी भी निकाल ली थी साथ ही टीपीनगर के शंभूनगर निवासी आशीष बंसल उर्फ सोनू पुत्र श्रीपाल बंसल हाल में नोएडा के ए-105 सेक्टर 55 में रहते थे.

मेरठ: मवाना में खुली खेल एकेडमी, गांवों से प्रतिभा तराशने कि तैयारी

मृतक आशीष का नोएडा और मेरठ में प्रापर्टी का बिजनेस था. 28 सितंबर की शाम को आशीष बंसल होटल सिग्नेचर में रुके थे. यह होटल उनके रिश्तेदार ज्ञान गोयल का है. गुरुवार सुबह साढ़े सात बजे आशीष बंसल ने चाय पी. दोपहर का खाना नहीं मांगा. जब होटल स्टाफ ने देखा तो कमरे के अंदर आशीष का खून से लथपथ शव पड़ा था. पास में पिस्टल भी पड़ी हुई थी. उसके पास ही सल्फास की गोलियां भी रखी हुई थीं.

वहीं अब इस पूरे मामले को लेकर पुलिस ने आशीष के मोबाइल की जांच शुरू की है, पुलिस अधिकारी के अनुसार कर्ज की वजह से ही आशीष ने जान दी . परिवार के लोग म्रतक का शव लेकर ब्रजघाट पर गए. वहां अंतिम संस्कार करने के बाद नोएडा लौट गए. इसलिए परिवार के लोगों से पुलिस की अभी बातचीत नहीं हो पाई है.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें