New Year 2022: चाहते हैं नए साल में हो धन की वर्षा, तो आज ही करें ये काम

Smart News Team, Last updated: Mon, 27th Dec 2021, 9:30 AM IST
  • नया साल 2022 की शुरुआत होने ही वाली है. हर कोई चाहता है कि नए साल में उसके जीवन और घर में सुख-समृद्धि बनी रहे और धन की कोई कमी न हो. इसके लिए जरूरी है कि माता लक्ष्मी की कृपा आप पर बनी रहे. नए साल के शुरू होने से पहले आज ही इन उपाय को करने से आपके घर माता लक्ष्मी की कृपा से धन की कोई कमी नहीं रहेगी.
मां लक्ष्मी (फोटो साभा-हिन्दुस्तान टाइम्स)

इस साल 2021 में महामारी और महंगाई के कारण हर वर्ग के लोग परेशान रहे. इस दौरान पैसों की तंगी से लोगों को कई  परेशानियों का सामना करना पड़ा. अगर आप भी चाहते हैं कि नए साल में इन सभी परेशानियों और कठिनाईयों का सामना न करना पड़े तो नए साल के शुरू होने से पहले आज ही बताए गए इन उपायों को जरूर करें, इससे नए साल की शुरुआत से ही मां लक्ष्मी की कृपा से धन की वर्षा होने लगेगी. तो आइये जानते हैं मां लक्ष्मी से जुड़े इन उपायों के बारे में.

तिजोरी में रखे ये चीजे- पैसे रखने वाले स्थान या तिजोरी में ऐश्वर्य वृद्धि यंत्र या धनदा यंत्र को रखने से घर की आर्थिक तंगी दूर होती है. आप चाहे तो इन दोनों यंत्र में से किसी एक यंत्र को भी रख सकते हैं. प्रतिदिन घर की पूजा करते समय इसकी भी विधिवत पूजा करें. इस विधि से धन की कभी कमी नहीं होगी.

New Year 2022: भविष्यवक्ता नास्त्रेदमस ने साल 2022 के लिए की थीं ये भविष्यवाणियां!

इस चीज की डाल लें आदत- तिजोरी में सुपारी रखने की आदत डाल लें. पूजा की सुपारी को गौरी-गणेश का रूप माना गया है. इसलिए तिजोरी या पैसे रखने वाले स्थान पर इसे रखने से धन के रूप में मां लक्ष्मी की कृपा बरसती है.

शुक्रवार के दिन करें ये उपाय- नए साल 2022 की शुरुआत होने से पहले शुक्रवार के दिन पीले रंग के कपड़े में केसर, चांदी का सिक्का, हल्दी का एक गांठ और कौड़ी को बांधकर तिजोरी में रख दें. इससे धर संबंधी परेशानियां दूर होती है.

आर्थिक समस्या से छुटकारा दिलाता है ये शंख- पैसे रखने वाले स्थान पर दक्षिणावर्ती शंख रखना अच्छा माना जाता है. इस तरह के शंख से मां लक्ष्मी आकर्षित होती है और उस स्थान पर वास करती हैं. दक्षिणावर्ती शंख घर में रखने से घर पर सुख-समृद्धि बनी रहती है.

इस दिन मनाई जाएगी साल 2021 की आखिरी 'सफला एकादशी' व्रत, ये है डेट, टाइम और पूजा विधि

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें