मेरठ: आठ महीने बाद खुले कॉलेज और विश्वविद्यालय, 5 फीसदी स्टूडेंट भी नहीं पहुंचे

Smart News Team, Last updated: 23/11/2020 09:44 PM IST
  • मेरठ में आठ महीने बाद सोमवार को कॉलेज और विश्वविद्यालय कैंपस खुल गए. हालांकि कोरोना के खौफ का असर साफ तौर पर देखा गया. 50 फीसदी छात्रों की उपस्थिति की छूट के साथ खुले कॉलेजों में पहले दिन पांच फीसदी स्टूडेंट नहीं पहुंचे. वहीं कैंपस में कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए सुरक्षा गाइडलाइन का सख्ती से पालन किया गया. गेट पर ही छात्रों को सेनेटाइजर दिया गया और उनकी थर्मल स्क्रीनिंग की गई. बिना मास्क के किसी को भी कैंपस के अंदर प्रवेश नहीं दिया गया. वहीं शहर के बड़े और प्रमुख मेरठ कॉलेज में क्लर्क पॉजिटिव मिला है, इससे हड़कंप मचा हुआ है.
  • जिले में कोरोना संक्रमण की रफ्तार बेकाबू हो चुकी है. पिछले 24 घंटों के भीतर दो कोरोना पॉजिटिव मरीजों की मौत हो चुकी है और 247 नए मरीज सामने आए हैं. जिले में इस समय कुल 1786 एक्टिव मरीज हैं. दो सप्ताह के मरीजों की संख्या दोगुने से ज्यादा हो चुकी है. डीएम बाला जी ने आज जिले के सभी प्रशासनिक और स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ कोरोना संक्रमण की रोकथाम को लेकर बैठक की. इस दौरान उन्होंने सख्त लहजे में अधिकारियों की लापरवाही पर भी सवाल उठाए. उधर चीनी मिल में 16 कर्मचारियों की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मचा हुआ है.
  • शादी समारोह में 100 लोगों की संख्या निर्धारित करने के साथ ही अब सख्ती और बढ़ा दी गई है. प्रशासन की ओर से दी जाने वाली अनुमति में शादी समारहो का वीडियो भी उपलब्ध कराने को कहा जा रहा है. इसके जरिए समारोह में पहुंचे मेहमानों की संख्या को नियंत्रित करने का प्रयास है, निर्धारित संख्या में अधिक मेहमान समारोह में पहुंचे तो मेजबान पर कार्रवाई भी हो सकती है. समारोह में किसी प्रकार का शस्त्र ले जाने की मनाही है. सोशल डिस्टेंसिंग, सेनेटाइजेशन और मास्क अनिवार्य होगा.
  • हरियाणा के जींद के एक कारोबारी को संतान प्राप्ति का झांसा देकर मेरठ के तांत्रिक ने 12 लाख रुपए की रकम हड़प ली. बताया जा रहा है कि आरीफ नामक आरोपी तांत्रिक लिसाड़ी गेट की जाकीर कालोनी के गली नंबर आठ का रहने वाला है. वह अब हरियाणा पुलिस की रडार पर है. कारोबारी सुरेश ने बताया कि तांत्रिक ने विश्वास दिलाया था कि वह बली देकर और पूजा पाठ करने के बाद तावीज बनाकर देगा, जिसे पहनने से संतान प्राप्ति होगी. सुरेश और उसके परिवार के लोग झांसे में आ गए. आरोपी ने 12 लाख रुपए की रकम हड़प ली और मौका पाकर वह जेवरात लेकर भी फरार हो गया.
  •  हस्तिनापुर बर्ड सेंचरी इन दिनों साइबेरियन और यूरेशिया पक्षियों से गुलजार है. सर्द मौसम और भोजन की आसान उपलब्धता के चलते हस्तिनापुर तक आ पहुंचे इन विदेशी और देशी मेहमानों का नजारा देखते ही बन रहा है. खासकर गंगा में अठखेलियां करते पक्षी लोगों का ध्यान अपनी ओर खींच रहे हैं. कभी आसमान चूमते और कभी पानी में अठखेलियां करते इन पक्षियों को देखकर अलग ही आनंद मिलता है. प्रोफेसर यशवंत राय बताते हैं कि सर्दी शुरू होते ही साइबेरिया व अन्य देशों से बड़ी संख्या में विदेशी पक्षी भोजन की तलाश में गंगा किनारे अपना डेरा डाल लेते हैं. आपको बता दें कि हस्तिनापुर वन्य जीव सेंचरी क्षेत्र करीब 2073 वर्ग किलोमीटर में फैला हुआ है. यहां से गुजर रही गंगा नदी विदेशी मेहमान यानि कि साइबर पक्षियों की मेजबानी करती है.

सम्बंधित वीडियो गैलरी