मेरठ: कोरोना के संदिग्ध मरीजों की पहचान को 17 से 27 तक चलाया जाएगा सर्वे अभियान

Smart News Team, Last updated: 10/11/2020 06:30 PM IST
मेरठ. कोविड-19 को लेकर आज ओद्योगिक क्षेत्र के प्रतिनिधियों के साथ डीएम के बालाजी ने बैठक की. उन्होंने कहा कि कोई भी व्यक्ति अपनी बीमारी और लक्षणों को ना छुपाए. आज बेहतर से बेहतर ईलाज उपलब्ध है और हजारों कोरोना मरीज ठीक होकर घर भी जा चुके हैं. उन्होंने ओद्योगिक क्षेत्रों में कोरोना जांच कैंप लगाने के लिए भी कहा. उन्होंने बताया कि 17 से 27 नवंबर तक संदिग्ध कोरोना मरीजों की पहचान के लिए ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों में घर-घर सर्वे अभियान चलाया जाएगा.                                                                                 चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय में कोरोना संक्रमण से आफिस सुपरिटेंडेंट की मौत से हड़कंप मच गया है. सर छोटू लाल इंजीनियरिंग कॉलेज में कार्यरत दिनेश वर्मा कुछ दिन पहले कोरोना संक्रमित मिले थे. उन्हें एक निजी अस्पताल में आईसीयू में रखा गया लेकिन संक्रमण फैलने से उन्हें बचाया नहीं जा सका. वह चार दिन तक वेंटिलेटर पर रहे और आज उन्हें मृत घोषित कर दिया गया. कैंपस में बीते तीन दिनों में कोरोना के आठ मामले सामने आ गए हैं. दो प्रोफेसर भी कोरोना संक्रमित हो चुके हैं और सर छोटू राम कॉलेज में भी तीन लोग कोरोना संक्रमित हो चुके हैं. कोरोना संक्रमण मिलने के मामले में विश्वविद्यालय की लापरवाही सामने आई है. वहीं चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय में उर्दू विभाग के एचओडी असलम जमशेदपुरी की अचानक तबीयत बिगड़ गई. उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है.                                                                                               एमएलसी चुनाव के लिए आज नौ लोगों ने नामांकन किए. इससे पूर्व सोमवार को पांच लोगों ने नामांकन किए थे. अब तक शिक्षक सीट से छह प्रत्याशी नामांकन दाखिल कर चुके हैं. इस चुनाव में अब तक कुल 14 प्रत्याशी मैदान में हैं और नामांकन के लिए दो ही दिन शेष बचे हैं.                                                                     चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय ने स्नातक प्रथम वर्ष में खिलाड़ियों के लिए सीधे प्रवेश की प्रक्रिया जारी कर दी है. ऐसे खिलाड़ी जिन्होंने स्नातक प्रथम वर्ष के लिए रजिस्ट्रेशन कराया है लेकिन किसी कारण प्रवेश नहीं हो पाया तो वह अपने खेल के आधार पर ट्रायल के जरिए प्रवेश पा सकते हैं. ट्रायल विश्वविद्यालय कैंपस के स्पोर्ट्स ग्राउंड में तीन दिन चलेंगे. 17 से 19 नवंबर तक चलने वाली इस प्रक्रिया में छात्रों को डॉक्टर से फिटनेस प्रमाण पत्र और अपनी स्पोटर्स किट साथ लानी होगी. ट्रायल सुबह आठ बजे शुरू हो जाएंगे. तमाम जानकारी वेबसाइट पर अपलोड कर दी गई है.                                                                                                 नगर आयुक्त ने आज निगम अधिकारियों के साथ रैन बसेरों की चेकिंग की. रैनबसेरे का निरीक्षण करते हुए उन्होंने अधिकारियों को कहा कि रैन बसेरे में निराश्रित और गरीब लोगों को कोई दिक्कत नहीं होनी चाहिए. उन्होंने मौजूद स्थिति पर संतोष जताया और इसके बाद उन्होंने टाउन हाल में रैन बसेरे की स्थिति अच्छी ना मिलने पर अधिकारियों को जल्द सभी रैन बसेरों को दुरुस्त करने का आदेश दिया. उन्होंने कहा कि यह सीएम का आदेश है कि रैन बसेरों का संचालन दुरुस्त किया जाए. इसमें कोई लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी.

सम्बंधित वीडियो गैलरी