शराबखोरी के आरोप में जेल गया टीचर बिना अधिकारियों के आदेश के हुआ निलंबन मुक्त

Somya Sri, Last updated: Fri, 3rd Sep 2021, 4:48 PM IST
  • मुजफ्फरपुर के कांटी प्रखंड के प्राथमिक स्कूल बलहां के शिक्षक को पंचायत सचिव संतोष कुमार ने बिना अधिकारियों के आदेश के ही निलंबन मुक्त कर दिया है. शिक्षक को शराबखोरी के आरोप में गिरफ्तार किया गया था और जेल भेज दिया गया था. जिसके बाद उसे सस्पेंड भी कर दिया गया था.
शराबखोरी के आरोप में जेल गया टीचर बिना अधिकारियों के आदेश के हुआ निलंबन मुक्त (प्रतिकात्मक फोटो)

मुजफ्फरपुर: मुजफ्फरपुर में नियमों को ताक पर रख कर पंचायत सचिव ने आरोपी शिक्षक को बिना किसी अधिकारियों से अनुमति लिए निलंबन मुक्त कर दिया. मुजफ्फरपुर के कांटी प्रखंड के प्राथमिक स्कूल बलहां के शिक्षक को पंचायत सचिव संतोष कुमार ने बिना अधिकारियों के आदेश के ही निलंबन मुक्त कर दिया है. शिक्षक को शराबखोरी के आरोप में गिरफ्तार किया गया था और जेल भेज दिया गया था. जिसके बाद उसे सस्पेंड भी कर दिया गया था. लेकिन पंचायत सचिव ने शिक्षक को फिर से नौकरी पर बहाल कर दिया. 

दरअसल, मामला 23 जून का है, शिक्षक संतोष कुमार को कांटी पुलिस ने शराबखोरी के आरोप में गिरफ्तार कर जेल भेजा था. जिसके बाद उसे सस्पेंड भी कर दिया गया था. लेकिन पंचायत सचिव ने शिक्षक को फिर से नौकरी पर बहाल कर दिया. जिसके बाद प्रशासन हरकत में आया और  शिक्षक को बगैर अधिकारियों के आदेश के ही निलंबन मुक्त करने के मामले में कांटी बीईओ अरविंद कुमार ने पंचायत सचिव और आरोपी शिक्षक पर कार्रवाई के लिए जिला शिक्षा पदाधिकारी से संपर्क किया है.

मुजफ्फरपुर: सदर थाने में मिला दुर्लभ पहाड़ी प्रजाति का सांप, वन विभाग ने किया रेस्कयू

बता दें कि मामला 23 जून को शिक्षक संतोष कुमार को कांटी पुलिस ने शराबखोरी के आरोप में गिरफ्तार कर जेल भेजा था. 24 जुलाई को आरोपी शिक्षक जेल से छुटा था. इसी तारीख से पंचायत सचिव ने अधिकारियों के निर्देश के बिना शिक्षक को निलंबन से आजाद कर दिया था. निलंबन से मुक्त होते ही शिक्षक स्कूल भी आने लगा. इसी मामले को देखते हुए कांटी बीईओ अरविंद कुमार ने पंचायत सचिव और आरोपी शिक्षक पर कार्रवाई के लिए जिला शिक्षा पदाधिकारी से संपर्क किया है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें