मुजफ्फरपुर में सिलेंडर फटने से 9 घर जलकर राख, लाखों की संपत्ति खाक

Sumit Rajak, Last updated: Mon, 21st Feb 2022, 8:25 AM IST
  • मुजफ्फरपुर जिले के सकरा प्रखंड के कटेसर गांव के रमनगरा टोला में रविवार दोपहर अगलगी में गैस सिलेंडर फट गया. इससे नौ घर जल गए और लाखों की संपत्ति जलकर नष्ट हो गई. फायर ब्रिगेड की टीम ने ग्रामीणों के सहयोग से आग पर काबू पाया गया.
मुजफ्फरपुर में सिलेंडर फटने लगी आग

मुजफ्फरपुर. मुजफ्फरपुर जिले के सकरा प्रखंड के कटेसर गांव के रमनगरा टोला में सिलेंडर फटने से 9 घर जलकर राख हो गया. इस घटना में लाखों की संपत्ति जलकर खाक हो गई. जिले के सकरा थाना क्षेत्र के रमनगरा गांव में दोपहर में सिलेंडर फटने से भीषण आग लग गई, जिससे करीब 50 लाख की संपत्ति का नुकसान हुआ है. एक के बाद एक दो सिलेंडर विस्फोट से गांव में भगदड़ मच गई. घर से सामान निकाल रहे लोग बाल-बाल बच गए. सिलेंडर फटने के बाद आग की लपटें तेजी से घरों को अपनी चपेट में लेती चली गई. 

सकरा थाना क्षेत्र के कटेसर पंचायत के रमनगरा गांव के गणेश राय के घर में अचानक सिलेंडर फटा. जिसकी वजह से तेजी से नौ घरों में आग लग गई. इस घटना में काफी नुकसान हुआ है, हालांकि किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है.सूचना पर सकरा थाना से मिनी दमकल टीम के अलावा जिला से छोटी दमकल की गाड़ी लेकर पहुंची फायर ब्रिगेड की टीम ने ग्रामीणों के सहयोग से आग बुझायी. इससे पहले ग्रामीणों ने बोरिंग चलाकर भी आग बुझाने के प्रयास में लगे थे. लेकिन आग की लपटें इतनी तेज थी कि आसपास के सभी घरों को जलाकर नष्ट कर दिया. टोले में ताड़ के पेड़ व कई वृक्ष भी झुलस गए.

चारा घोटाला: लालू यादव को आज CBI कोर्ट ऑनलाइन सुनाएगी सजा, RIMS में ही मौजूद रहेंगे RJD सुप्रीमो

ग्रामीणों ने कहा कि अगलगी में गणेश राय, उमेश राय, महेश राय, सकलदीप राय, संजीत राय, कुलदीप राय, अनरजीत राय आदि के घर जल गए. घरों में रखे अनाज, कपड़े, आभूषण, बर्तन आदि जलकर राख हो गए. ग्रामीण संजीत कुमार, वार्ड सदस्या हसीबुल खातून, पंकज कुमार, बरियारपुर ओपी प्रभारी राजेश यादव, राजस्व कर्मचारी रमेशचन्द्र सिंह आदि मौके पर पीड़ितों की मदद में जुटे थे.

पीड़ितों ने कहा कि दोपहर बाद अचानक एक घर से आग की लपटें उठने लगी जो देखते ही देखते दूसरे घरों को अपनी चपेट में लेती चली गई. घटना के वक्त अधिकांश लोग खेत में काम कर रहे थे. आग की लपट देख सभी घर की ओर दौड़े.  पीड़ितों ने कहा कि सिलेंडर फटने के बाद लोगों में दहशत फैल गया. घरों से सामान निकाल रहे लोग डरकर दूर हट गए और सबकुछ जलकर राख हो गया. आग बुझाने में भी काफी डर लग रहा था. दस लाख से अधिक की संपत्ति राख हो गई. मुखिया कामता कुमारी ने सकरा सीओ से अविलंब अग्निपीड़ित परिवारों को सरकारी सहायता उपलब्ध कराने की मांग की है.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें