बिहार में चटनी की छींट पड़ने पर लड़कियों की कैट फाइट, जमकर थप्पड़बाजी

Sumit Rajak, Last updated: Wed, 1st Dec 2021, 3:26 PM IST
  • मुजफ्फरपुर में मंगलवार की शाम को अजीबो गरीब घटना सामने आई है. जहां एक दुकान पर डोसा खाने के दौरान युवती के कपड़े पर चटनी का छींटा पड़ने से 4 युवतियां आपस में भिड़ गईं. इसके बाद देखते ही देखते एक-दूसरे पर थप्पड़ बरसाने लगी. युवतियां एक-दूसरे का बाल खींचकर मारपीट करने लगी.आस-पास के लोगों में भी अफरा-तफरी का माहौल उत्पन्न हो गया.
प्रतीकात्मक फोटो

मुजफ्फरपुर. मुजफ्फरपुर में  मंगलवार की शाम को अजीबो गरीब घटना सामने आई है. जहां एक दुकान पर डोसा खाने के दौरान युवती के कपड़े पर चटनी का छींटा पड़ने से 4 युवतियां आपस में भिड़ गईं. जिसके बाद देखते ही देखते युवतियों ने हाथापाई शुरू कर दी. इस दौरान वहां मौजूद कुछ लोगों ने झगड़ा को शांत कराने की कोशिश की.वहां मौजूद लोगों ने इसका वीडियो बना लिया. घटना  मुजफ्फरपुर के नगर थाना क्षेत्र के सिकंदरपुर ओपी इलाके की है.

एक दुकान पर डोसा खाने के दौरान युवती के कपड़े पर चटनी का छींटा पड़ने से विवाद शुरु हो गया . इसके बाद 4 युवतियों ने एक-दूसरे पर थप्पड़ बरसाने लगी. इस मामले को देख मौजूद लोगों ने बीचबचाव किया. तो कुछ लोगों ने विडिया बना लिया. ये विडियो सोशल मीडिया में जमकर वायरल हो रहा है. मारपीट करने वाली में दोनों ओर से दो-दो युवती थीं. स्थानीय लोगों का कहना है कि सिकंदरपुर चौक के पास एक डोसे की दुकान में सभी युवतियां डोसा खाने पहुंचे थी. डोसा खाने के दौरान एक युवती से चटनी का छींटा दूसरे पक्ष की युवती के कपड़े पर पड़ गया. जिसके बाद दोनों में विवाद शुरू हो गया. सबसे पहले दोनों के बिच गाली-गलौज शुरू हुआ, इसके बाद देखते ही देखते दोनों ओर से एक-दूसरे पर थप्पड़ बरसाने लगी. युवतियां एक-दूसरे का बाल खींचकर मारपीट करने लगी. आस-पास के लोगों में भी अफरा-तफरी का माहौल उत्पन्न हो गया.

नीतीश सरकार बिहार में जल्द करेगी सवा लाख शिक्षकों की बहाली, जानें फुल डिटेल्स

इस मामले को देख मौजूद लोगों की भीड़ जमा हो गई. भीड़ में मौजूद लोगों ने दोनों तरफ को शांत करने की बहुत कोशिश की. काफी मशक्कत को बाद दोनों पक्षों को एक-दूसरे से अलग कराया गया.  इसके बाद मामला शांत हुआ. झगड़ा शांत होने के बाद चारों युवतियां मौके से निकल गईं. जबकी, किसी पक्ष ने इस मामले  को लेकर थाने में शिकायत दर्ज नहीं कराई है.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें