मुजफ्फरपुर: बूढ़ी गंडक का जलस्तर बढ़ा, शहबाजपुर-मिठनसराय में घरों में घुसा पानी

Smart News Team, Last updated: Thu, 5th Aug 2021, 11:33 AM IST
  • मुजफ्फरपुर जिले के ग्रामीण इलाकों को बुधवार को गंडक और बागमती ने तो राहत दी पर बूढ़ी गंडक नदी में लगातार दूसरे दिन पानी में वृद्धि दर्ज की गई. जिस कारण शहबाजपुर के निचले इलाकों में पानी घुसने लगा है. मिठनसराया सड़क पर पानी चढ़ने से करीब पांच सौ घरों का रास्ता अवरुद्ध हो गया है.
मुजफ्फरपुर: बूढ़ी गंडक का जलस्तर बढ़ा, शहबाजपुर-मिठनसराय में घरों में घुसा पानी

मुजफ्फरपुर. बूढ़ी गंडक में लगातार दूसरे दिन पानी में वृद्धि दर्ज की गई.शहर से सटी पंचायत शहबाजपुर के निचले इलाकों में पानी घुसने लगा है. मिठनसराया सड़क पर पानी चढ़ने से करीब पांच सौ घरों का रास्ता अवरुद्ध हो गया. नदी अभी लाल निशान से लगभग एक मीटर नीचे है.

बूढ़ी गंडक नदी का बहाव विजरी छपरा बांध की ओर होने के बाद कई लोगों ने अपने घर छोड़ दिए. शहबाजपुर पंचायत के निचले इलाकों में भी पानी फैलने लगा है. इसके अलावा शहर के पास के क्षेत्र छींट भगवतीपुर, मिल्लत कॉलोनी, कर्पूरी ग्राम, झीलनगर, आश्रमघाट और लकड़ीढाही में भी पानी फैला.

छींत भगवतीपुर में लोगों ने बांध पर बसेरा डालना शुरू कर दिया है. गंडक नदी के जलस्तर में गिरावट आने के बाद साहेबगंज में बांध पर शरण लेने वाले लोग घर लौट गए हैं. लोग बाढ़ को लेकर पूरी तरह आश्वस्त नहीं हुए हैं, इसलिए बांध पर अपना कई सामान रखकर रखवाली भी कर रहे हैं.

आपको बता दें कि बुधवार को मुजफ्फरपुर में 9.60 मिमी बारिश हुई है. बारिश सभी जगह एक समान नहीं होकर अलग अलग जगहों पर छिटपुट हुई है. मौसम विभाग ने कहा कि 28 जून तक मौसम ऐसा ही रहेगा. 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें