बिहार: बाढ़ विस्थापित परिवार को फ्री दाल देने की शर्त पर कोर्ट ने दी आरोपी को जमानत

Smart News Team, Last updated: Mon, 13th Sep 2021, 7:06 PM IST
  • सरकारी खाद्यान्न की कालाबाजारी करने के मामले में आरोपी को दो लोगों को बाढ़ विस्थापित के बीच मुक्त दाल उपलब्ध कराने की शर्त पर जमानत. फुलपरास के एमओ अर्जुन कुमार ने राजीव कुमार व नीतीश कुमार सहित आठ लोगों को आरोपित किया था.
बिहार: बाढ़ विस्थापित परिवार को फ्री दाल देने की शर्त पर कोर्ट ने दी आरोपी को जमानत (फाइल फोटो)

मुजफ्फरपुर. बिहार में सरकारी खाद्यान्न की कालाबाजारी करने के मामले में आरोपी को दो लोगों को बाढ़ विस्थापित के बीच मुक्त दाल उपलब्ध कराने की शर्त पर जमानत मंजूर की गई है. मधुबनी जिला के झंझारपुर के एडीजी अविनाश कुमार के कोर्ट द्वारा आरोपित को दाल उपलब्ध कराने की शर्त पर जमानत दी. फुलपरास के एमओ अर्जुन कुमार ने राजीव कुमार व नीतीश कुमार सहित आठ लोगों को आरोपित किया था. 

एमओ अर्जुन कुमार ने फुलपरास थाना में आवश्यक वस्तु अधिनियम कांड संख्या 187/21 के जरिये आरोपी पर केस दर्ज किया था. राजीव कुमार व नितीश उनके साथी को 11 मई से जेल में गए थे. आरोपी जमानत के लिए कोर्ट में अर्जी दाखिल की थी. आरोपी ने बीपी नंबर 190/21 के द्वारा कोर्ट में जमानत के लिए अर्जी दाखिल की गई थी. दोनों तरफ  से दलील  सुनने  के बाद झंझारपुर के एडीजे अविनाश कुमार नें दोनों बंधुओं को 10-10 हजार के दो-दो मुचलका  जमा करने होंगे.

बिहार पंचायत चुनाव में उम्मीदवार का अनोखा घोषणापत्र- जीते तो बाइक, बीड़ी, खैनी फ्री देंगे नेता जी

साथ ही दोनों को 50-50 किलो दाल बाढ़ विस्थापित परिवार के बीच मुफ्त में वितरण करने का आदेश दिया है.और कहा गया कि प्रत्येक परिवार को दो 2 किलो दाल उपलब्ध कराए जाए. बाढ़ विस्थापित परिवार को दो 2 किलो दाल उपलब्ध कराने के बाद वहां के मुखिया, सरपंच, विधायक व वार्ड सदस्य किसी एक में से प्रमाण पत्र लेकर कोर्ट में जमा कराना होगा होगा.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें