मुजफ्फरपुर में दलितों को बसने के लिए नहीं मिल पा रही जमीन

Smart News Team, Last updated: 06/05/2021 12:26 PM IST
  • सकरा ब्लॉक की रामकृष्ण पंचायत में बसने के लिए जमीन न मिल पाने की वजह से दलितों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. सरकारी अनुदान आने के बावजूद जमीन की कीमत ज्यादा होने के कारण पैसों का वितरण नहीं हो सका.
कीमत ज्यादा होने से नहीं मिल रही जमीन 

मुजफ्फरपुर: सकरा ब्लॉक की रामकृष्ण पंचायत में बसने के लिए जमीन न मिल पाने की वजह से दलितों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. लोगों के लिए 60-60 हजार रुपए का सरकारी अनुदान आने के बावजूद जमीन की कीमत ज्यादा होने के कारण पैसों का वितरण नहीं हो सका. बस्ती में पहुंचने के लिए रास्ता तक नहीं है. जमीन न मिल पाने के कारण सड़क का निर्माण कार्य अधूरा ही रह गया.

जानकारी के मुताबिक यहां एक जमीन के मालिक को अपनी जमीन दान करने के लिए भी भटकना पड़ रहा है. जमीन दान करने के लिए सीओ को आवेदन देने के बावजूद कोई कार्रवाई नहीं हुई. जमीन की कीमत अधिक होने के कारण लोग अपनी जमीन दान देना ही नहीं चाहते.

मुजफ्फरपुर सर्राफा बाजार में सोना 460 व चांदी 230 रुपए गिरी, आज का मंडी भाव

पंचायत भवन में जाने के लिए रास्ता न होने के कारण दूसरे की जमीन से जाना पड़ता है. जिस जमीन पर निर्माण कार्य किया गया, वहां जमीन मालिक ने केस दर्ज करा दिया. ऐसा इसलिए हुआ क्योंकि भूमि स्वामी से नो ऑब्जेक्शन सर्टिफिकेट नहीं लिया गया, जिसकारण से लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा.

पेट्रोल डीजल 6 मई का रेट: पटना, मुजफ्फरपुर, भागलपुर, पूर्णिया, गया में फिर बढ़ा

वहीं इस बारे में पंचायत की मुखिया अर्चना कुमारी का कहना है कि अगर उन्हें मौका मिला तो वो अपनी जमीन में ही पंचायत सरकार भवन का निर्माण कराएंगी. उधर उपमुखिया उदय शंकर शर्मा के मुताबिक कमीशन की वजह से लोगों को इस योजना का लाभ नहीं मिल पा रहा है. उन्होंने बताया कि इस मामले में बीडीओ को जानकारी दी जा चुकी है, लेकिन परेशानी अब भी जस की तस बनी है.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें