अविश्वास प्रस्ताव वोटिंग में फर्जी पंचायत समिति सदस्य, प्रखंड प्रमुख को हटाने की साजिश

Smart News Team, Last updated: Sat, 12th Dec 2020, 6:19 AM IST
  • फर्जी पंचायत समिति सदस्य के सहारे प्रखंड प्रमुख को कुर्सी से हटाने की कोशिश की गई. बताया जा रहा है कि प्रमुख रीता देवी के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पेश किया गया था. जांच में पाया गया कि एक महिला फर्जी तरीके से पंचायत समिति सदस्य बनकर वोटिंग में शामिल हो गई थी.
फर्जी महिला के खिलाफ पारु थाने में FIR दर्ज करवा दी गई है. (प्रतिकात्मक फोटो)

मुज़फ़्फ़रपुर- जिले के पारू से एक सनसनीखेज मामला सामने आया है. जहां, फर्जी पंचायत समिति सदस्य के सहारे प्रखंड प्रमुख को कुर्सी से हटाने की कोशिश की गई. बताया जा रहा है कि प्रमुख रीता देवी के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पेश किया गया था. बताते चलें कि प्रखंड में कुल पंचायत समिति सदस्यों की संख्या 47 है.

इस अविश्वास प्रस्ताव को पास कराने के लिए विरोधियों को आधे से एक अधिक सदस्य यानि 24 पंचायत समिति सदस्यों का समर्थन जरूरी था. इस अविश्वास प्रस्ताव में 24 सदस्यों ने वोट दिया. लेकिन जांच में पाया गया कि एक महिला फर्जी तरीके से पंचायत समिति सदस्य बनकर वोटिंग में शामिल हो गई थी.

मुजफ्फरपुर: अतिक्रमण हटाओ अभियान में आज रिहायशी इलाकों में चलेंगे बुलडोजर

इस फर्जी महिला की पहचान शबनम खातून के रूप में हुई है. बताया जा रहा है कि यह महिला पंचायत समिति सदस्य रजिया खातून की जगह वोटिंग में शामिल हो गई थी. बीडीओ ने बताया कि जांच में फर्जी महिला की गड़बड़ी पकड़ी गई है. उसके खिलाफ पारु थाने में एफआईआर करवा दी गई है.

ठंड का बढ़ा कहर तो नगर निगम को याद आई PM आवास योजना, अभी तक सैकड़ों मकान अधूरे

मॉडल स्कूल के नाम पर करोड़ों किए खर्च, अभी तक नहीं लग पाए ब्लैक बोर्ड

मुजफ्फरपुर सर्राफा बाजार में सोना 790 व चांदी 1740 रुपये गिरी, आज का मंडी भाव

बिहार बोर्ड 10-12वीं के छात्रों को दे रहा टैबलेट और स्मार्ट फोन जीतने का मौका, जानें

मुजफ्फरपुर: अतिक्रमण हटाओ अभियान में आज रिहायशी इलाकों में चलेंगे बुलडोजर

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें