मुजफ्फरपुर में घर-घर से लोग लाठी लेकर सड़कों पर उतरे, रात के अंधेरे में कर रहे ये काम

Uttam Kumar, Published on: Mon, 15th Nov 2021, 10:00 AM IST
प्रतिकात्मक फोटो. 

मुजफ्फरपुर: बिहार में अपराध की घटना दिनों दिन बढ़ती जा रही है. चोरी की घटना से परेशान मुजफ्फरपुर के दो   इलाके ने इससे निपटने के लिए पुलिस पर निर्भरता छोड़कर खुद अपनी टीम बना ली है. जवाहर लाल रोड स्थित योगेंद्र मुखर्जी मार्ग व हकीम तौहीद लेन के लोगों ने रविवार से अपने मुहल्लों की सुरक्षा की जिम्मेदारी खुद संभाल ली है. दोनों मुहल्ले के लोगों ने मिलकर सुरक्षा के लिए पचास लोगों की टीम बनाई है. जिसमें प्रति दिन छह से आठ लोग बारी – बारी से रात में मुहल्लों में गस्त करेंगे.  

दरअसल बीते कुछ समय से जवाहर लाल रोड स्थित योगेंद्र मुखर्जी मार्ग व हकीम तौहीद लेन मुहल्ले में चोरी की घटना काफी बढ़ गई है. देर रात तक मुहल्ले में आसामाजिक तत्त्वों के जामवाड़े से मोहल्लेवासी घरों, दुकान और जान माल की सुरक्षा को लेकर डरे हुए थे. जिसके बाद दोनों मुहल्ले के लोगों ने सुरक्षा के लिए मिलकर सुरक्षा की  जिम्मेवारी पुलिस पर भरोसा करने के बजाय खुद उठाने का निर्णय किया. इसके लिए दोनों मुहल्ले के लोगों ने प्रतिदिन के हिसाब से लोगों के बीच जिम्मेदारी तय कर दी. 

बेटी किडनैप, पिता की शिकायत के बाद लड़का लेकर पहुंचा थाने, अब पुलिस कस्टडी में लड़की की मौत

दोनों मुहल्ले के लोग ने आपसी सहयोग से लाठी, भाला और सीटी की खरीद कर लोगों में बांट दिया है. साथ हीं     सुरक्षा में शामिल लोगों को पारंपरिक हथियार के साथ नगर थानेदार और पुलिस अधिकारियों के मोबाईल नंबर उपलब्ध कराए गए हैं. रविवार को सुरक्षा में तैनात लोगों ने जन प्रतिनिधियों और नगर थानेदार ओमप्रकाश की उपस्थिति में रात्रि गश्ती भी की. जन प्रतिनिधियों ने सुरक्षा को लेकर इस तरह की पहल को सराहनीय बताते हुए हर मुहल्ले में शुरू करने पर जोर दिया. 

इस तरह की पहल पर स्थानीय थानेदारों का कहना है कि अगर हमें किसी तरह की घटना की जानकारी मिलेगी तो दो मिनट में पुलिस की टीम मौके पर पहुँच जाएगी. उन्होंने कहा कि संदिग्ध के बारे में सूचना देने पर पुलिस फौरन एक्शन लेगी. 

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें