कंगना के समर्थन में आई करणी सेना, मुजफ्फरपुर में फूंका उद्धव ठाकरे का पुतला

Smart News Team, Last updated: Tue, 15th Sep 2020, 8:22 PM IST
  • मुजफ्फरपुर के भगत सिंह चौक पर सोमवार को राजपूत करणी सेना ने कंगना रनौत के समर्थन में महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे का पुतला फूंका. करणी सेना के कार्यकर्ताओं ने उद्धव ठाकरे के विरोध में जमकर नारेबाजी भी की.
बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत

मुजफ्फरपुर: शहर के जीरोमाइल रोड स्थित भगत सिंह चौक पर सोमवार को श्री राजपूत करणी सेना ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे का पुतला फूंका. इस कार्यकर्ताओं ने सरकार के खिलाफ जमकर प्रदर्शन किया. सुशांत सिंह राजपूत की मौत और कंगना रनौत से बदसलूकी के विरोध में करणी सेना ने नारेबाजी भी की. 

जानकारी के मुताबिक करणी सेना ने भगत सिंह चौक पर बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत के समर्थन में महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे का पुतला फूंका. मौके पर प्रदेश अध्यक्ष प्रियांशु कुमार, जिला अध्यक्ष संदीप सिंह ,जिला महामंत्री अमित सिंह ,प्रदेश प्रवक्ता अंतेश सिंह ,प्रदेश कोर कमेटी सदस्य वीर प्रताप सिंह, जिला मीडिया प्रभारी विवेक सिंह, अभिजीत राठौर ,विकास सिंह, कुणाल सिंह, अमर राठौर आदि मौजूद थे.

कंगना रनौत ने ऑफिस तोड़ने पर BMC से मांगा 2 करोड़ रुपये का मुआवजा: सूत्र

‌गौरतलब है कि कंगना और महाराष्ट्र सरकार के बीच विवाद तब शुरू हुआ. जब कंगना ने बॉलीवुड में ड्रग्स के इस्तेमाल और सुशांत सिंह राजपूत केस में मुंबई पुलिस के बारे में टिप्पणी की थी. यह जुबानी जंग तब और बढ़ गई. जब कंगना ने मुंबई को पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर कह दिया. इस पर शिवसेना के नेता संजय राउत ने भी कंगना के लिए आपत्तिजनक भाषा का इस्तेमाल किया. उसके बाद कई लोग कंगना के समर्थन में महाराष्ट्र सरकार के विरोध पर उतर आए. महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने भी कंगना का समर्थन किया. इसके बाद यह विवाद इतना बढ़ गया कि बीएमसी ने कंगना रनौत का घर भी गलत निर्माण बोलकर तोड़ दिया. कंगना भी यहीं नहीं रुकी, उन्होंने उद्धव ठाकरे से लेकर उनके बेटे आदित्य ठाकरे पर भी कई इल्जाम लगाए हैं.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें