बेरहमी! 50 रुपए किराए के लिए कंडक्टर ने मजदूर को बस से नीचे फेंका, मौत

Smart News Team, Last updated: Wed, 4th Aug 2021, 8:45 PM IST
  • मुजफ्फरपुर में बुधवार को एक तेज रफ्तार से चलती बस से कंडक्टर ने किराया विवाद के चलते मजदूर को बस से नीचे धकेल दिया। जिसके चलते मजदूर की मौत हो गई. वहीं बस कंडक्टर ने मजदूर द्वारा 50 रुपए किराया नहीं देने से नाराज होने के चलते बस से बाहर धकेला.
बेरहमी! 50 रुपए किराए के लिए कंडक्टर ने मजदूर को बस से नीचे फेंका, मौत

मुजफ्फरपुर. मुजफ्फरपुर में बुधवार को किराए को लेकर हुवे विवाद के बाद बस कंडक्टर ने तेज रफ्तार से चल रही बस से एक मजदूर को नीचे फेंक दिया. जिसके चलते उसकी मौत हो गई. यह घटना नेशनल हाईवे 22 पर तुर्की थाना क्षेत्र के दरियापुर में हुआ. इस घटना के बारे में ओपी प्रभारी राम विनय कुमार ने बताया कि बस कंडक्टर ने मजदूर को बस से नीचे 50 रुपए किराया नहीं देने के कारण फेंक दिया. वहीं मृतक मजदूर की पहचान सीतामढ़ी जिले के नानपुर सिंहचौरी गांव के निवासी महाराज दास के रूप में हुई है. 

पुलिस ने इस घटना के बारे में आगे बताया कि बस में सवार एक यात्री ने बताया कि पटना से सीतामढ़ी जा रही बस में मृतक और उसके साथी सवार हुए. बस में बहुत भीड़ होने के चलते सभी दरवाजे के पास ही खड़े थे. जब बस दरियापुर के पास पहुंची तो कंडक्टर ने मृतक दास से किराया मांगा. जिसके बाद दास ने 25 रुपए टिकट के लिए दे दिए. जिसके बाद कंडक्टर ने 50 रुपए और मांगे. जिसे दास ने देने से इंकार कर दिया. 

बिहार में कोरोना प्रोटोकॉल सख्ती बढ़ेगी, CM नीतीश खुद चेकिंग पर, DP, SP कब करेंगे?

दास के 50 रुपए देने से मना करने पर कंडक्टर और उसमें कहासुनी हो गई. जिससे नाराज कंडक्टर ने दास को बस से बाहर धकेल दिया. बस से बाहर गिरते ही दास का सिर बस की बॉडी और टायर से टकराने से गंभीर रूप से घायल हो गया. जिसके बाद स्थानीय और बस में सवार यात्रियों ने दास को एक निजी अस्पताल में भर्ती करवाया जहां पर उसकी मौत हो गई. 

इसके साथ ही पुलिस ने आगे बताया कि बस में किराया विवाद की सूचना मिलते ही वह मौके पर पहुंच गए, लेकिन तब तक बस का चालक, कंडक्टर और क्लीनर पहले ही वहां से फरार हो चुके थे. लेकिन बस को जब्त कर लिया गया है. साथ ही फरार बस स्टाफ का पता लगाने के लिए एक टीम भी लगाई गई है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें